अररिया सीट पर फिर मिली बीजेपी को हार, 2014 में ‘मोदी लहर’ भी नहीं दिला पाई थी जीत

पटना: बिहार की अररिया लोकसभा सीट से आरजेडी उम्मीदवार सरफराज आलम ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी में बीजेपी प्रत्याशी प्रदीप सिंह से 61988 मतों से हरा दिया है. आरजेडी को 509334 जबकि बीजेपी को 447346 वोट मिली. इस सीट पर 11 मार्च को मतदान हुआ था. इस उपचुनाव को राजद प्रमुख लालू प्रसाद के लिए प्रतिष्ठा के प्रश्न के तौर पर देखा जा रहा था क्योंकि चारा घोटाला मामलों में सजा सुनाए जाने के बाद उनके राजनीतिक भविष्य पर सवाल उठाए जा रहे थे. उधर, उपचुनावों में आरजेडी के मिली शानदार जीत के बाद तेजस्वी यादव ने विरोधियों पर जमकर निशाना साधा. तेजस्वी ने कहा, “जो लोग कहते थे कि लालू जी खत्म हो गए हैं आज हम उनको कह सकते हैं कि लालू जी एक विचारधारा का नाम है. इस जीत के लिए बिहार की जनता को धन्यवाद देता हूं साथ ही मांझी जी को भी धन्यवाद देता हूं.”

अररिया सीट राजद सांसद मोहम्मद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद खाली हुई थी. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ हाथ मिलाने के बाद राज्य में यह पहला उपचुनाव था जिससे सभी की नजरें इस चुनाव पर लगी हैं. अररिया से सात उम्मीदवार, जहानाबाद से 14 उम्मीदवार तथा भभुआ से 17 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे.

2014 में भी बीजेपी को मिली थी हार
बीजेपी के लिए यह चुनाव खासा अहम था. आरजेडी ने 2014 लोकसभा चुनावों में ‘मोदी लहर’ के बावजूद यह सीट जीती थी. तसलीमुद्दीन ने 2014 के लोकसभा चुनाव में दो लाख से अधिक वोट से सीट पर जीत दर्ज की थी. इस बार का चुनाव इसलिए भी अहम था क्योंकि बीजेपी-जेडीयू गठबंधन आरजेडी के मुकाबले मैदान में था लेकिन आरजेडी ने उनके मंसूबे पर पानी फेर दिया.

जेडीयू छोड़कर आरजेडी में शामिल हुए थे सरफराज आलम
जैसे ही चुनाव आयोग ने उपचुनाव की घोषणा की थी, उसके बाद जोकिहाट से जेडीयू के विधायक रहे सरफराज आलम ने पार्टी और विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था और आरजेडी में शामिल हो गए. आलम ने विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद आरजेडी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री राबडी देवी से उनके आवास जाकर मुलाकात की थी . उसके बाद राजद के कार्यालय में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी की उपस्थिति में दल की सदस्यता ग्रहण कर ली थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help