मुंबई: आंदोलनकारी छात्रों के पथराव में 11 पुलिसकर्मी घायल, दो गिरफ्तार

मुंबई: भारतीय रेल में नौकरियों की मांग कर रहे आंदोलनकारी छात्रों द्वारा पथराव में राजकीय रेलवे पुलिस जीआरपी और रेलवे सुरक्षा बल आरपीएफ के करीब 11 जवान घायल हो गये. एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि इस घटना के संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. अधिकारी ने कहा कि दादर में तैनात एक वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक और दो महिला कांस्टेबलों सहित जीआरपी के पांच जवान इस घटना में घायल हुए. उन्होंने कहा कि इसके अलावा, रेलवे पटरियों पर बैठे आंदोलनकारियों द्वारा पथराव में आरपीएफ के छह जवान घायल हुए.

पुलिस उपायुक्त जीआरपी मध्य समाधान पवार ने कहा कि दादर में जीआरपी ने करीब 800 से एक हजार लोगों के खिलाफ भारतीय दंड सहिंता की धाराओं 307 हत्या का प्रयास 353 लोक सेवक पर हमला या आपराधिक बल का प्रयोग और 341 गलत ढंग से रोकना तथा रेल कानून एवं बंबई पुलिस अधिनियम के विभिन्न अन्य प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया है.

उन्होंने कहा कि अब तक दो लोग गिरफ्तार हुए हैं. इस घटना की जांच जारी है. भारतीय रेल में प्रशिक्षण लेने वाले और अब स्थायी नौकरी की मांग कर रहे कई राज्यों के करीब 400 से 500 छात्र सुबह करीब 6. 45 बजे रेलवे पटरियों पर आकर बैठ गये.

एक्सप्रेस ट्रेन सेवाएं कुछ घंटे के लिए रोकनी पड़ीं
बाधा के कारण मध्य रेल को दक्षिण मुंबई में माटुंगा और छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल के बीच प्रभावित खंड में उपनगरीय एवं एक्सप्रेस ट्रेन सेवाएं कुछ घंटे के लिए रोकनी पड़ीं. मध्य रेल के प्रमुख पीआरओ सुनील उदसी ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को पटरियों से हटाने के बाद सेवाएं बहाल हुईं.

रेल मार्ग अवरूद्ध होने पर लाखों यात्रियों को आज व्यस्त समय में दिक्कतों का सामना करना पड़ा. इससे पहले आरपीएफ और मुंबई पुलिस को माटुंगा में आंदोलनकारी छात्रों को हटाने के लिए हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help