लश्कर प्रमुख को पाकिस्तान NSA ने लिखी चिट्ठी, कहा- ‘मुझे इसी प्रकार मार्गदर्शन देते रहें’

इस्लामाबाद: आतंकियों को पनाह और समर्थन देने के मामले में बार-बार पूरे विश्व के सामने बेपर्दा होने के बावजूद पाकिस्तान कहता है कि वह आतंकवाद के खिलाफ है. इस बार भारतीय मीडिया के हाथ एक ऐसी चिट्ठी लगी है, जिससे यह साबित होता है कि पाकिस्तान आतंकवादियों का पनाहगार है और उसकी जमीन पर आतंकियों का बोलबाला है. इस चिट्ठी में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) नसीर जंजुआ ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक आमिर हमजा को एक चिट्ठी लिखी है. इस चिट्ठी में अंतरराष्ट्रीय आतंकी आमिर हमजा के लिए पाकिस्तान के NSA आदरसूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हैं. इस चिट्ठी ने आतंकवाद के प्रति पाकिस्तान के दोहरे रवैये की पोल सबके सामने खोल दी है.

अमेरिकी मीडिया ने ISI को बताया तालिबान समर्थक
इससे पहले अमेरिकी मीडिया ने दावा किया था कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) सीमावर्ती क्षेत्र में तालिबान को अब भी चोरी-छिपे सहयोग करती है. ‘वाशिंगटन टाइम्स’ की एक रिपोर्ट में पाकिस्तानी सीमाक्षेत्र में उन विशिष्ट मोहल्लों और आसपास के इलाकों का जिक्र है, जिन्हें तालिबान आतंकवादी पनाहगाह की तरह इस्तेमाल कर रहे हैं. रिपोर्ट में आरोप लगाया गया कि अफगानिस्तान से आतंकवादी बेधड़क पाकिस्तानी सेना के गढ़, क्वेटा में आते जाते हैं, जहां वे सेना औरवं इंटर सर्विस इंटेलिजेंस (ISI) के अधिकारियों से मिलते हैं.

पाकिस्तानी NSA की चिट्ठी की प्रमुख बातें
पाकिस्तानी NSA नसीर जंजुआ ने लश्कर प्रमुख आमिर हमजा को लिखी चिट्ठी में उसका शुक्रिया अदा किया. NSA जंजुआ लिखते हैं, ‘सम्मानीय आमिर हमजा साहब, मैं उम्मीद करता हूं कि आप सही सलामत होंगे. आपने रद्दुल फसाद से संबंधितजो कागजात भिजवाए थे, मैं उसके लिए आपका शुक्रगुजार हूं. आपने बलूचिस्तान में चल रहे मेरे काम की सही पहचान की. यह आपकी दुआओं के असर से है. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के तौर पर मेरे द्वारा किए जा रहे कामों की आपने प्रशंसा की है, जिसके लिए मैं आपका शुक्रगुजार हूं. मैं खुदा से दुआ करूंगा कि वह मुझे और ताकत और हिम्मत बख्शे, जिससे मैं नेशनल एक्शन प्लान को असल रूप में लागू कर सकूं और देश की सेवा में पूरी ईमानदारी के साथ अपना योगदान दूं. मैं आपका बेहद शुक्रगुजार रहूंगा, यदि आप मेरे लिए दुआ करें और मुझे इसी प्रकार मार्गदर्शन देते रहें- लेफ्टिनेंट जनरल नसीर खान जांजुआ.’

मुंबई हमले के मोस्ट वांटेड लिस्ट में आमिर हमजा
आमिर हमजा 26/11, मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद का बेहद करीबी माना जाता है. आमिर हमजा पर लश्कर के लिए फंडिंग जुटाने की जिम्मेदारी है. कुछ दिनों पहले भारतीय इंटेलिजेंस सर्विस को आमिर हमजा की एक ऑडियो क्लिप हाथ लगी थी, जिसमें वह आतंकियों को कश्मीर के प्रति भड़का रहा था. आमिर हमजा का नाम मुंबई हमले के मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help