कहीं 2014 के लोकसभा चुनाव भी ‘डाटा चोरी’ से प्रभावित तो नहीं हुए, चुनाव आयोग कर सकता है जांच!

नई दिल्ली: सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के जरिए डाटा चोरी संबंधी मामले के मद्देनजर भारत में निवार्चन प्रक्रिया को डाटा चोरी से महफूज बनाने की दिशा में चुनाव आयोग ने उपाय सुनिश्चित करने की पहल की है. आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने 23 मार्च को बताया कि निर्वाचन प्रक्रिया में ‘बाहरी दखलंदाजी’ को रोकने के लिए कारगर उपायों को पुख्ता किया जायेगा. इतना ही नहीं अगले सप्ताह इस बात पर भी विचार किया जाएगा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में ‘डाटाचोरी’ जैसे उपायों से चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने की कोशिश तो नहीं की गई थी.

सूचना प्रोद्यौगिकी मंत्रालय से रिपोर्ट मांग सकती है आयोग
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आने वाले कुछ दिनों में आयोग द्वारा इस बारे में सूचना प्रोद्यौगिकी मंत्रालय से वस्तुस्थिति को स्पष्ट करने वाली रिपोर्ट भी मांगी जा सकती है. अधिकारी ने बताया कि यह मामला चुनाव प्रक्रिया से जुड़ा है इसलिये आयोग न सिर्फ इस बारे में जरूरी फैसले करेगा बल्कि सरकार को नियमों में बदलाव करने की सिफारिश भी कर सकता है. इसके अलावा आयोग के साथ विभिन्न अभियानों में जुड़े फेसबुक के साथ अपनी आपसी समझ की भी समीक्षा की जायेगी. मतदाताओं को फेसबुक के डाटा के जरिये प्रभावित करने के आरोपों के मद्देनजर आयोग अपनी सोशल मीडिया टीम से इस बारे में रिपोर्ट तलब कर सकता है.

सरकार ने फेसबुक उपयोगकर्ताओं के डेटा चोरी मामले में कैंब्रिज एनालिटिका को नोटिस जारी किया है और 31 मार्च तक उससे जवाब मांगा है. सरकार ने कैंब्रिज एनालिटिका से पूछा है कि क्या वह भारतीयों के डेटा दुरुपयोग और उनके मतदान करने के तरीके को प्रभावित करने में शामिल थी. नोटिस में कंपनी से यह भी पूछा गया है कि किन इकाइयों ने उसकी सेवाएं ली हैं, वह किस तरीके से आंकड़े रखती है और क्या प्रयोगकर्ताओं की सहमति लेती है.

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बयान में कहा कि इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कैंब्रिज एनालिटिका को नोटिस जारी किया. यह स्वामित्व और डेटा का दुरुपयोग कर प्रयोगकर्ताओं के प्रोफाइल बनाने और उनके मतदान के तरीके को प्रभावित करने जैसे गंभीर उल्लंघन का मामला है. मंत्रालय ने कंपनी से पूछा है कि क्या इन आंकड़ों के आधार पर प्रोफाइल बनाया गया? इससे पहले इसी सप्ताह विधि एवं कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने सोशल मीडिया क्षेत्र की दिग्गज फेसबुक को आगाह किया था, यदि उसने आंकड़ों की चोरी के जरिये चुनावों को प्रभावित करने का प्रयास किया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help