मध्य प्रदेश : सीएम शिवराज ने दिए पत्रकार संदीप शर्मा की मौत की सीबीआई जांच की घोषणा

भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को भिंड के पत्रकार संदीप शर्मा की सड़क दुर्घटना में हुई मौत की सीबीआई जांच कराने की घोषणा की. सीएम शिवराज ने कहा कि सीबीआई जांच से सच सबके सामने आ जाएगा. सीएम शिवराज ने ये घोषणा, अधिकारियों की लॉ एंड ऑर्डर की समीक्षा बैठक में की. गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के भिंड में सोमवार को एक पत्रकार की ट्रक से कुचलकर कथित हत्या की बात सामने आई थी. मामले की गंभीरता और हत्या की आशंका को देखते हुए मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन का आदेश सोमवार को ही दे दिया गया था.

कांग्रेस ने उठाए जांच के आदेश पर सवाल
वहीं पत्रकार संदीप शर्मा के मामले को लेकर राज्य सरकार द्वारा सीबीआई जांच के ऐलान के साथ ही इस मामले को लेकर सियासत तेज हो गई है. कांग्रेस ने सरकार के फैसले की तारीफ तो की है, लेकिन साथ ही सीबीआई जांच पर सवाल उठाते हुए प्रदेश कांग्रेस नेता मृणाल पंत कहा है कि पिछले कुछ दिनों में जिस तरीके से खनन माफियाओं के मामले पर सीबीआई जांच हुई हैं, वह जांच बताती हैं कि आखिर कितनी निष्पक्षता से जांच हुई है. उन्होंने कहा कि चाहे IPS नरेंद्र का मामला हो या तहसीलदार के हाथ काटने का मामला दोनों मामले में सीबीआई किसी नतीजे तक नहीं पहुंची है. इस मामले पर बीजेपी के प्रदेश महामंत्री अरविंद भदौरिया ने कहा कि पार्टी और सरकार दोनों चाहती थीं कि इस पूरे मामले में दूध का दूध और पानी का पानी हो. उन्होंने कहा कि यह हादसा है या हत्या, सीबीआई जांच में सब साफ हो जाएगा. इस मामले को अत्यंत गंभीर एवं संदिग्ध बताते हुए कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इसकी तत्काल सीबीआई जांच कराने की मांग की थी. संदीप के परिजनों को संदेह है कि रेत माफियाओं ने जानबूझकर पत्रकार को ट्रक से कुचला है, क्योंकि उन्होंने रेत माफियाओं एवं एक पुलिस अधिकारी का स्टिंग किया था.

परिजनों ने लगाए थे पुलिस पर सुरक्षा न देने का आरोप
इस मामले में पत्रकार के भांजे विकास पुरोहित ने सिटी कोतवाली पुलिस थाने में अपनी शिकायत दर्ज कराई. शिकायत मे कहा गया था कि संदीप ने मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक, पुलिस महानिरीक्षक, भिंड के पुलिस अधीक्षक एवं मानव अधिकार आयोग को कई बार आवेदन देकर रेत माफियाओं से अपनी जान को खतरा बताकर सुरक्षा की मांग की थी. इस घटना को सोमवार को लेकर मृतक के परिजन सहित आक्रोशित स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया. संदीप शर्मा ने पुलिस और रेत माफियाओ के गठजोड़ का स्टिंग ऑपरेशन करते हुए खुलासा किया था. उस स्टिंग ऑपरेशन के बाद लगातार उन्हें जान से मारने की धमकी मिल रही थी. जान से मारने की धमकियों को लेकर संदीप शर्मा ने पुलिस से लेकर प्रधानमंत्री तक इसकी शिकायत की थी. लेकिन, पुलिस-प्रशासन ने उनकी शिकायतों को गंभीरता से नहीं लिया.

आरोपी ट्रक ड्राइवर गिरफ्तार
इस मामले में भिंड के पुलिस अधीक्षक प्रशांत खरे ने बताया था कि पत्रकार संदीप शर्मा (35) सोमवार सुबह बाइक पर कहीं जा रहे थे, तभी एक ट्रक ने उन्हें कुचल दिया. पत्रकार की मौत की घटना CCTV में कैद हो गई है. पुलिस ने ट्रक को भी कब्जे में ले लिया है. साथ ही पुलिस ने आरोपी ट्रक ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है. आपको बता दें कि संदीप ने साल भर पहले रेत माफिया और पुलिस के बीच सांठगांठ से जुड़ा एक स्टिंग किया था. संदीप के इस स्टिंग में अटेर के एक पुलिसकर्मी को रेत माफिया से रिश्वत लेते दिखाया गया था. वहीं पुलिस अधीक्षक प्रशांत खरे ने पत्रकार द्वारा आवेदन दिए जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि संदीप के आवेदन की जांच कराई जा रही थी.

इस घटना पर प्रतिक्रया देते हुए केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने सोमवार को कहा था कि मध्य प्रदेश सरकार को पत्रकार के मौत की जांच करानी चाहिए. उन्होंने कहा था कि कानून-व्यवस्था की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है और मामले की उचित जांच के बाद उसे कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने कहा था कि सत्य को उजागर करना पत्रकारों की जिम्मेदारी होती है. यह केवल पेशा नहीं वरन सिद्धांतों के साथ जीवन जीने का मार्ग है. राठौर ने कहा कि पत्रकार बहुत जिम्मेदारी का काम करते हैं और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help