देवरिया में ‘गुंडाराज’, युवक की पिटाई का हैवानियत भरा वीडियो हुआ वायरल

देवरिया: एक तरफ यूपी पुलिस लगातार गुंडों का एनकाउंटर कर रही है और प्रदेश में कानून-व्यवस्था बेहतर करने की कोशिश में लगी है. इसी मकसद से यूपीकोका कानून लाया जा रहा है और कहा जा रहा है की प्रदेश में गुंडाराज समाप्त हो गया है. तो वहीं दूसरी तरफ अक्सर ऐसे वीडियो सामने आ रहे हैं जिसमें खुलेआम कुछ लोग किसी एक शख्स को घेरकर पीटते नजर आते हैं. एक ऐसा ही वीडियो फिर वायरल हुआ है जो यूपी के देवरिया जिले का बताया जा रहा है. वीडियो में कुछ युवक एक लड़के को पेड़ से बांधकर बेल्ट और डंडो से बेरहमी से पिटाई कर रहे हैं और उसका वीडियो बना रहे हैं. इन युवकों का ऐसा दुस्साहस सरकार को खुली चुनौती देने वाला है.

बेल्ट और डंडों से बेरहमी से पिटाई
दरअसल, उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में एक हैवानियत भरा वीडियो वायरल हुआ है. जिसमें दो दर्जन लड़के एक युवक की पेड़ से बांधकर बेल्ट और डंडों से बेरहमी से पिटाई कर रहे हैं. वीडियो में युवक को भद्दी-भद्दी गालियां भी दी जा रही हैं. यही नहीं वीडियो में कोई युवक की बांह को तोड़ने का प्रयास करता नजर आ रहा है तो कभी उसके बालों को खींचा जा रहा है. युवक खुद को छुड़ाने के लिए रहम की भीख मांग रहा है फिर भी मारने वाले लड़के उसको पीटने पर आमादा हैं. चारों तरफ से बेल्ट नुमा कोड़े उस पर बरसाए जा रहे हैं और वह तड़पता रहा.

बनाया पिटाई का वीडियो
आपको बता दें की दबंग युवकों की गुंडागर्दी यहीं नहीं रुकी. पूरी पिटाई का वीडियो बनाकर दहशत फैलाने के मकसद से उसे वायरल कर दिया गया है. इस घटना में पुलिस ने पीड़ित युवक की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का दावा किया है. सीओ सिटी सीताराम ने जी मीडिया को बताया कि वीडियो में पिटाई की जा रही है. यह घटना सदर कोतवाली के सकरापार गांव के पास की है जो बीते बुधवार (कल) को घटित हुई. पुलिस के मुताबिक पीड़ित युवक सदर कोतवाली के शहर के रौनियार मोहल्ले का रहने वाला है और अपने बड़े पिताजी के दुकान पर काम करता है.

पीड़ित युवक ने सुनाई अपनी आपबीती
जब जी मीडिया ने पीड़ित युवक शमशाद से बात की तो उसका कहना था, “मैं घर से सामान लेने के लिए निकला था कि मोहल्ले का रहने वाला युवक नासिर आया बोला कहा कि आओ राम गुलाम टोला चलना है तो हम चले गए, उधर लड़के थे हमको मारे और गाड़ी में बिठाकर सकरा पर लेकर चले गए. विकास यादव उसमें मुख्य था, मेरा कपड़ा निकलवाया, कहा कि शर्ट उतारो, मैंने शर्ट उतार दिया, मेरा शर्ट लेकर मुझे पेड़ से बांध दिया, बेल्ट से मारे, पिस्टल निकाला कहा कि गोली मार देंगे. तीस-पचीस थे, दस मार रहे थे, पेड़ में बांधकर बेल्ट और डंडे से. कह रहे थे की चिक टोली का जो भी लड़का मिलेगा उसको पीटेंगे, उन लोगों ने रिकार्डिंग कर वीडियो वायरल किया. नासिर मेरा पैसा लिया था. उसी के लेनदेन में विवाद हो गया और एक दिन मेरे घर आया मारपीट हुई कहा कि देख लेंगे. उसके बाद देख लेने की धमकी देकर चला गया और ले जाकर पिटवा दिया.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help