उन्नाव गैंगरेप: राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का यूपी सरकार को नोटिस, पुलिस कस्टडी में हुई थी पीड़िता के पिता की मौत

उन्नाव गैंगरेप में युवती के पिता की न्यायिक हिरासत में मौत के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने यूपी सरकार को नोटिस जारी किया है.

लखनऊ: उन्नाव गैंगरेप में युवती के पिता की न्यायिक हिरासत में मौत के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने यूपी सरकार को नोटिस जारी किया है. पीड़िता के पिता की सोमवार को उन्नाव में हिरासत में मौत हो गयी थी. लड़की का आरोप है कि विधायक के इशारे पर उसके पिता की जेल में हत्या की गयी है.

ANI UP

@ANINewsUP
National Human Rights Commission (NHRC) issues notice to Government of Uttar Pradesh over the death of a person in judicial custody in Unnao and related allegations. The man is father of the rape victim who attempted suicide with her family outside CM’s residence.

2:32 PM – Apr 10, 2018
181
65 people are talking about this
Twitter Ads info and privacy

हालांकि उन्नाव की पुलिस अधीक्षक पुष्पांजलि देवी के मुताबिक लड़की के पिता को आठ अप्रैल को जिला जेल से अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान कल उनकी मौत हो गयी. पिटाई के प्रकरण में चार अप्रैल को दर्ज प्राथमिकी में चार लोग नामजद हैं. पुलिस इन चारों- सोनू, बउवा, विनीत और शैलू को गिरफ्तार कर चुकी है.

वहीं उन्नाव में बीजेपी विधायक द्वारा लड़की के साथ बलात्कार किए जाने और युवती के पिता की न्यायिक हिरासत में मौत के प्रकरण की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है. अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने कहा, ‘एसआईटी इस घटना से जुड़े सभी पहलुओं की जांच करेगी.’

उधर बलात्कार के आरोपी विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर को आज सुबह उन्नाव में गिरफ्तार कर लिया गया है. राज्य पुलिस महानिदेशक के निर्देश पर अपराध शाखा के एक दल ने अतुल को गिरफ्तार किया. 18 वर्षीय पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उसके भाइयों ने बलात्कार किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help