CWG 2018 : सुशील की गोल्डन हैट्रिक, एक मिनट में कर दिया अफ्रीकी पहलवान को चित

नई दिल्ली : 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के 8वें दिन रेसलर सुशील कुमार ने 74 किलोग्राम भार वर्ग मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी को हराकर देश को चौथा गोल्ड दिला दिया. भारत के दिग्गज पहलवान सुशील कुमार ने केवल एक मिनट के भीतर ही अपने प्रतिद्वंद्वी को चित करते हुए राष्ट्रमंडल खेलों में अपने स्वर्ण पदकों की हैट्रिक कर दी. इसके साथ ही उन्होंने भारत की झोली में 14वां स्वर्ण पदक डाला. सुशील ने पुरुषों की 74 किलोग्राम वर्ग स्पर्धा में दक्षिण अफ्रीका के जोहानेस बोथा को 10-0 से मात देकर राष्ट्रमंडल खेलों का तीसरा स्वर्ण पदक जीता.

इससे पहले, सुशील ने 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे. इस जीत के साथ ही उन्होंने अपने पदकों की हैट्रिक पूरी की है. सुशील कुमार ने दो ओलंपिक मेडल भी जीते हैं. वह ओलंपिक में कांस्य और सिल्वर मेडल जीत चुके हैं. रियो ओलंपिक में उन्हें जाने का मौका नहीं मिल पाया.

सुशील ने बोथा को पहले ही मिनट में पूरा पलटते हुए चार अंक लिए और इसके बाद उन्हें नीचे पटकते हुए दो और अंक हासिल कर लिए. भारतीय दिग्गज पहलवान सुशील ने बोथी को संभलने का मौका भी नहीं दिया और और एक बार फिर उन्हें पटकर चार और अंक हासिल किए और स्वर्ण पदक जीता.

इससे पहले सेमीफाइनल में सुशील ने आस्ट्रेलिया के कोनोर इवांस ने 4-0 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया था. सुशील ने इससे पहले क्वार्टर फाइनल में पाकिस्तान के मोहम्मद बट को 4-0 से मात दी. सुशील ने तकनीकि तौर पर मोहम्मद को मात दी.

राहुल और बबीता ने भी दिलाए सोना चांदी
महाराष्ट्र के राहुल ने पुरुषों की 57 किलोग्राम स्पर्धा के फाइनल में कनाडा के स्टीवन ताकाहाशी को 15-7 से मात देकर जीत हासिल की. पहले ही मिनट में ही राहुल ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए ताकाहाशी को पटककर दो अंक हासिल किए. हालांकि, अगले ही पल राहुल को संभलने का मौका नहीं देते हुए कनाडा के पहलवान ने पूरा पलटते हुए चार अंक ले लिए.

इसके बाद राहुल ने भी ताकाहाशी पर दबाव बनाया और उन्हें रोल करते हुए छह अंक ले लिए थे. कनाडा के पहलवान ने भी हार नहीं मानी और राहुल को अच्छी टक्कर देते हुए दो अंक लिए और 6-6 से बराबरी कर ली. राहुल ने भी अपनी तकनीक को अपनाते हुए एक बार फिर ताकाहाशी को पकड़ा और फिर रोल करते हुए तीन और अंक हासिल करते हुए 9-6 से बढ़त ले ली. यहां राहुल को दर्द की समस्या हुई, लेकिन इसे नजरअंदाज करते हुए उन्होंने वापसी की और दो अंक और हासिल किए. मुकाबले की समाप्ति के लिए कुछ सेकेंड रह गए थे और एक बार फिर राहुल ने ताकाहाशी पर शिकंजा कस 15-6 से जीत हासिल कर ली.

वहीं गत चैम्पियन बबीता फोगाट को 53 किलो महिला कुश्ती स्पर्धा के खिताबी मुकाबले में कनाडा की डायना वेकर से हारकर रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा. बबीता ने 2010 दिल्ली खेलों में रजत और ग्लास्गो में 2014 में स्वर्ण पदक जीता था. वह आज 2-5 से हार गईं.बबिता ने फाइनल की राह में नाइजीरिया की सैमुअल बोस, श्रीलंका की दीपिका दिलहानी और आस्ट्रेलिया की कारिसा हालैंड को हराया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help