देश जलता रहे, लेकिन नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनने की चिंता: राहुल गांधी

प्रधानमंत्री के एक बयान को लेकर उन पर कटाक्ष करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘मोदी जी सोचते हैं कि जो शौचालय साफ करता है या गन्दगी उठाता है, वह यह काम पेट भरने के लिए नहीं करता, बल्कि आध्यात्म के लिए करता है.’’

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बलात्कार की हालिया घटनाओं, दलितों पर कथित अत्याचार, बैकिंग क्षेत्र में धोखाधड़ी और ‘राफेल घोटाले’ को लेकर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश जल रहा है, लेकिन नरेंद्र मोदी को सिर्फ फिर से प्रधानमंत्री बनने की चिंता सता रही है. राहुल गांधी ने मोदी सरकार में विदेश में देश की छवि धूमिल होने का आरोप लगाया और कहा कि पिछले 70 साल में किसी भी प्रधानमंत्री के कार्यकाल में ऐसी स्थिति नहीं रही.

मोदी जी को सिर्फ मोदी जी में दिलचस्पी है: राहुल गांधी

कांग्रेस के ‘संविधान बचाओ अभियान’ की शुरुआत करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘मोदी जी को सिर्फ मोदी जी में दिलचस्पी है और किसी मुद्दे में नहीं. उनको सिर्फ इस बात की चिंता है कि 2019 में वह फिर कैसे प्रधानमंत्री बनेंगे.’ उन्होंने कहा, ‘‘दलित मर जाए, अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हो, देश जल जाए, महिलाओं के साथ बलात्कार हो, लेकिन नरेंद्र मोदी सिर्फ यही जानना चाहते हैं कि फिर से प्रधानमंत्री कैसे बनेंगे.’’ उन्होंने कहा कि मोदी से अगली बार जनता जीएसटी, नोटबंदी और किसानों के मुद्दे पर जवाब मांगेगी और उनको अपने ‘मन की बात’ बताएगी.

देश के दलित मोदी जी से गुस्सा हैं: राहुल गांधी

प्रधानमंत्री के एक बयान को लेकर उन पर कटाक्ष करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘मोदी जी सोचते हैं कि जो शौचालय साफ करता है या गन्दगी उठाता है, वह यह काम पेट भरने के लिए नहीं करता, बल्कि आध्यात्म के लिए करता है.’’ उन्होंने कहा कि ‘मोदी जी देश के दलित आपसे गुस्सा हैं क्योंकि यह आपकी विचारधारा ऐसी है.’ उन्होंने कहा, “देश का हर व्यक्ति यह समझता है कि इस व्यक्ति (मोदी) के दिल में हिंदुस्तान के दलितों, कमजोरों और महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं है.

सभी संस्थाओं में आरएसएस की विचारधारा के लोगों को घुसाया जा रहा है: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान और गुजरात, जहां भी देखो वहां दलितों के खिलाफ हिंसा बढ़ती जा रही है. ऊना में घटना होती है और वह कुछ नहीं बोलते.” कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ संविधान देश के सभी लोगों की रक्षा करता है….. इस देश में जो भी संस्थाएं हैं वह हमारे संविधान की वजह से हैं, चाहे चुनाव आयोग हो, लोकसभा हो, राज्यसभा हो, विधानसभा हो, आईआईटी हों या आईआईएम हों, जो भी संस्थाएं हैं वो इसी संविधान की देन हैं. संविधान के बिना इस देश में कोई संस्था नहीं बनती.’’ उन्होंने कहा, ‘‘आज सभी संस्थाओं में आरएसएस की विचारधारा के लोगों को घुसाया जा रहा है.’’

पूरा देश जानता है कि राफेद सौदे में घोटाला हुआ: राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘जनता जज के पास जाती है और न्याय मांगती है. पहली बार जज न्याय मांगने जनता के बीच आये. सुप्रीम कोर्ट को कुचला जा रहा है. दबाया जा रहा है. संसद नहीं चलने दी जा रही क्योंकि मोदी जी संसद में खड़े होने से घबराते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘नीरव मोदी का मामला है, ललित मोदी का मामला है, विजय माल्या का मामला है, राफेल का मामला है. संसद में 15 मिनट मेरा भाषण करा लें. मैं नीरव मोदी के बारे में बोलूंगा, राफेल के बारे में बोलूंगा. मोदी जी वहां खड़े नहीं हो पाएंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पूरा देश इस बात को जानता है कि राफेल सौदे में घोटाला हुआ है. नीरव मोदी 30 हजार करोड़ रुपये लेकर भाग गया, लेकिन मोदी जी कुछ नहीं बोले.’’

राहुल गांधी ने कहा, ‘‘मोदी जी ने कल अपने सांसदों और विधायकों से कहा कि तुम लोग मीडिया को मसाला देते हो. उन्होंने कहा कि तुम लोग चुप रहो, सिर्फ मैं बोलूंगा और अपने ‘मन की बात’ करूंगा.’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘अरूण जेटली जी नहीं बोलेंगे, नितिन गडकरी जी नहीं बोलेंगे, कोई नहीं बोलेगा, सिर्फ नरेंद्र मोदी बोलेंगे और वो भी अपने मन की बात बोलेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पिछले चुनाव में 15-15 लाख रुपये देने, दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने और किसानों को राहत देने का वादा किया, लेकिन कुछ नहीं हुआ. जनता इसका जवाब देगी.’’

हम संविधान में बदलाव नहीं होने देंगे: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कठुआ और उन्नाव की घटना का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘आईएमएफ की प्रमुख (क्रिस्टीन लेगार्द) ने मोदी जी से कहा कि आपके देश में महिलाओं के खिलाफ एक के बाद एक अत्याचार हो रहा है और आप चुप है. इससे पहले किसी भी दूसरे प्रधानमंत्री से विदेश में कोई ऐसा नहीं बोला.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इनका नारा था ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’. लेकिन अब नारा है बेटी बचाओ और भाजपा से बेटी बचाओ, भाजपा के विधायकों से बेटी बचाओ. आज के हिंदुस्तान की यही सच्चाई है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम संविधान में बदलाव नहीं होने देंगे. हम सब मिलकर इस देश को नया रास्ता दिखाएंगे.’’

चार साल में मोदी ने देश की प्रतिष्ठा को चोट पहुंचाई: राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम मोदी पर विदेशों में देश की छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘ पहले दूसरे लोग हमारी तरफ देखते थे और कहते थे कि हम हिंदुस्तान की तरह काम करना चाहते हैं. कांग्रेस ने पिछले 70 साल में पूरी दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा बढ़ाई, लेकिन मोदी जी ने पिछले चार साल में इस प्रतिष्ठा को जबरदस्त चोट पहुंचाई है. हमारी छवि को नुकसान पहुंचाया है.’’

कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता रहे मौजूद

‘संविधान बचाओ अभियान’ की शुरुआत के कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत, अहमद पटेल, मोती लाल बोरा, अहमद पटेल, गुलाम नबी आजाद, दिग्विजय सिंह, सुशील कुमार शिंदे, पी एल पूनिया, मुकुल वासनिक, शीला दीक्षित, पीसी चाको, अजय माकन और कई दूसरे वरिष्ठ नेता मौजूद रहे.

‘संविधान बचाओ’ अभियान का मकसद दलितों के बीच पैठ बढ़ाना

‘संविधान बचाओ’ अभियान का मकसद संविधान और दलितों पर कथित हमलों के मुद्दे को राष्ट्रीय स्तर पर जोरशोर से उठाना है. पार्टी ने ‘संविधान बचाओ’ अभियान 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर दलित समुदाय के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के प्रयास के तहत शुरू किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help