यूपी : सरकारी बंगला छोड़ने वालों में सबसे आगे राजनाथ सिंह, ये होगा उनका नया पता

publiclive.co.in[Edited by रंजीत]

लखनऊ : सुप्रीम कोर्ट द्वारा पूर्व मुख्‍यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने संबंधी दिए गए आदेश का सबसे पहले पालन यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री और मौजूदा गृह मंत्री राजनाथ सिंह करेंगे. वह लखनऊ के कालीदास मार्ग पर आवंटित अपने सरकारी बंगले को खाली करेंगे. वह मुख्‍यमंत्री के तौर पर यूपी में आवंटित अपने सरकारी बंगले को खाली करके गोमती नगर के विपुल खंड स्थित अपने निजी आवास में शिफ्ट होंगे. रविवार को गोमती नगर स्थित उनके निजी आवास पर रंगरोगन और मरम्‍मत का कार्य भी शुरू हो गया है.

गृह मंत्री राजनाथ सिंह वर्ष 2000 से 2002 तक उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री रहे हैं. उन्‍हें उस दौरान 4 कालिदास मार्ग पर सरकार बंगला आवंटित किया गया था. 2014 में लखनऊ से सांसद बनने और गृह मंत्री बनने के बाद वह अपने लखनऊ दौरे के समय इसी सरकारी बंगले पर ठहरते हैं. लेकिन सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उत्‍तर प्रदेश सरकार ने भी सभी पूर्व मुख्‍यमंत्रियों को 15 दिन में बंगला खाली करने का नोटिस दिया था.

राजनाथ सिंह के प्रतिनिधि दिवाकर त्रिपाठी ने बताया कि गोमतीनगर में लगभग 2100 वर्ग फीट के मकान में मरम्मत का कार्य चल रहा है. उन्होंने कहा कि नोटिस अवधि के दौरान ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह सरकारी आवास छोड़ देंगे. उनका कैंप कार्यालय भी इसी मकान के एक हिस्से में शिफ्ट होगा. सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर छह पूर्व मुख्यमंत्रियों में से राजनाथ सिंह सबसे पहले कालीदास मार्ग स्थित अपना सरकारी आवास खाली करेंगे. इसके साथ ही राज्य संपत्ति विभाग ने शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और एनडी तिवारी को छोड़कर सभी को 15 दिन में आवास खाली करने का नोटिस तामील करा दिया है.

इन्‍हें भी खाली करना है सरकारी आवास :

1. नारायण दत्‍त तिवारी
एनडी तिवारी पहली बार 1976 से 1977 तक प्रदेश के मुख्‍यमंत्री रहे. इसके बाद 1984, 1985 और फिर 1988 से 1989 तक यूपी के मुख्‍यमंत्री रहे. एनडी तिवारी के पास दो सरकारी बंगले हैं. बतौर पूर्व मुख्‍यमंत्री एनडी तिवारी के पास एक बंगला लखनऊ में है तो दूसरा उत्तराखंड में. एनडी तिवारी 2002 से 2007 तक उत्‍तराखंड के भी मुख्‍यमंत्री रहे. एनडी तिवारी ने अपने बंगले के अंदर काफी बदलाव किया है. इसमें उन्‍होंने बगीचा लगवाया और मंदिर बनवाया है.

2. मुलायम सिंह यादव
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पिता और पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव का बंगला भी अखिलेश के बंगले से सटा हुआ है. उनका बंगला अखिलेश से कुछ बड़ा है. लखनऊ में 5बीडी मुलायम यादव का सरकारी पता है. मुलायम ने भी अपने सरकारी बंगले को तोड़कर एक बड़ा बंगला बनवाया, जिसमें वो अपनी दूसरी पत्नी बेटे प्रतीक और बहू अपर्णा यादव के साथ रहते हैं. मुलायम सिंह यादव पहली बार 1989 से 1991 तक यूपी के मुख्‍यमंत्री रहे. फिर 1993 से 1995 और 2003 से 2007 तक मुख्‍यमंत्री पद पर रहे.

3. मायावती
यूपी की पूर्व सीएम मायावती ने तो अपने सरकारी आवास को तोड़कर महल बना लिया है. कई एकड़ में बने इस भव्य महल में फिलहाल मायावती रहती हैं. वह तमाम सुविधाओं का लाभ भी उठा रही हैं. मायावती 1995, 1997, 2002-03 और 2007 से 2012 तक प्रदेश की सीएम रहीं.

4. कल्‍याण सिंह
यूपी के पूर्व मुख्यंत्री रहे कल्याण सिंह फिलहाल राजस्थान के गवर्नर हैं. लेकिन लखनऊ के मॉल एवेन्यू में उनका सरकारी बंगला मौजूद है. कल्याण सिंह जब भी लखनऊ आते हैं तो इसी बंगले में ही ठहरते हैं. कल्‍याण सिंह 1991 से 1992 और 1997 से 1999 तक प्रदेश के मुख्‍यमंत्री रहे.

5. अखिलेश यादव
यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री रहते ही विक्रमादित्य मार्ग पर 4 नंबर बंगले को अलॉट करा लिया था. मुख्यमंत्री रहते ही इस सरकारी बंगले को तोड़कर आलिशान बंगला बनवा दिया. अब अपने परिवार के साथ इसी बंगले में रहते हैं. अखिलेश यादव 2012 से 2017 तक प्रदेश के मुख्‍यमंत्री रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help