‘मां काली’ के भेष में था व्यक्ति, युवकों ने चाकुओं से गोदकर की हत्या

publiclive.co.in[Edited by.. विजय दुबे ]

देश में भीड़ के आगे कानून-व्यवस्था किस कदर असहाय नजर आ रही है, इसका ताजा उदाहरण राजधानी दिल्ली में देखने को मिला. मामूली विवाद पर नशे में धुत 7 युवकों ने ‘मां काली’ का भेष धरे महिला जैसे लगने वाले एक व्यक्ति की हत्या कर दी. पुलिस ने सातों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस ने आरोपियों की पहचान देशबंधु कॉलेज में बीकॉम फर्स्ट ईयर का छात्र नवीन कुमार, मोहित कुमार, अमन कुमार और सज्जन कुमार के रूप में की है. पुलिस ने बताया कि हत्यारोपियों में तीन नाबालिग भी शामिल हैं. सभी आरोपी गोविन्दपुरी इलाके के रहने वाले हैं.

मृतक की पहचान 21 वर्षीय कालूराम के रूप में हुई है. जानकारी के मुताबिक, ओखला इलाके में रिंग रोड पर कालूराम काली का भेष धरे घूम रहा था. तभी वहां से गुजर रहे एक बाइक सवार से वह टकरा गया, जिस पर बाइक सवारों ने उसके साथ झगड़ा कर लिया.

इस बीच बाइक सवार के दूसरे साथी भी आ गए. कालूराम ने जब अपने खिलाफ आपत्तिजनक भाषा के इस्तेमाल का विरोध किया तो युवकों ने उस पर चाकू से हमला कर दिया. हमलावरों ने चाकू और पत्थर से हमला कर कालूराम की हत्या कर दी.

बता दें कि मृतक काली का भक्त था और कालकाजी मंदिर की धर्मशाला में अकेले रहता था. वह कालिकाजी मंदिर के इर्द गिर्द के इलाकों में काली की वेश-भूषा में घूम-घूमकर भीख मांगता था. उसके दोस्तों में अधिकतर किन्नर थे और वह उन्हीं के साथ घूमता-फिरता था.

महिलाओं जैसी वेश-भूषा के चलते लोग अक्सर उस पर फब्तियां कसते थे. जब युवकों ने उस पर जानलेवा हमला किया, उस समय भी कुछ किन्नरों ने बीच-बचाव की कोशिश की. लेकिन तब तक कालूराम की मौत हो चुकी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help