CSK की IPL जीत में छिप गया यह रिकॉर्ड, किसी का नहीं गया ध्यान

publiclive.co.in [ Edited By विजय दुबे ]

नई दिल्ली : साल 2018 आईपीएल इस बार कई तरह से अनोखा रहा. सबसे बड़ा आकर्षण चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की दो साल बाद वापसी रही जिसका कि उनके फैंस को बेसब्री से इंतजार था. सीएसके ने अपने फैंस की उम्मीदों को पूरा करते हुए शानदार अंदाज में फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद को हराकर तीसरा आईपीएल खिताब अपने नाम कर लिया. इसके साथ ही टीम ने कई रिकॉर्ड भी बनाए लेकिन एक रिकॉर्ड पर किसी का ध्यान नहीं गया.

इस मैच में कई खास रिकॉर्ड बने. आईपीएल में दूसरी टीम ने तीन बार आईपीएल खिताब जीता था. इससे पहले मुंबई इंडियन्स ने भी तीन बार आईपीएल जीता थी. एक खास रिकॉर्ड जिस पर लोगों का ध्यान ही नहीं गया, वह था छक्कों का रिकॉर्ड. किसी एक खिलाड़ी के छक्कों का नही बल्लकि टीम के छक्कों का रिकॉर्ड. फाइनल में सीएसके ने की ओर से कुल 10 छक्के लाएगए जिसमें अकेले शेन वाटसन ने ही 8 छक्के लगाए थे. इस छक्कों की बदौलत चेन्नई के इस आईपीएल में कुल 145 छक्के हो गए और उसने आईपीएल में एक टीम की और से सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड बना दिया जो इससे पहले आरसीबी के नाम था.

आरसीबी ने 2016 में 142 छक्के लगाए थे. इस सीजन में विराट कोहली ने 973 रन बनाए थे जिसका रिकॉर्ड अभी तक कायम है. विराट ने तब 38 छक्के, एबी डिविलियर्स ने 37 और क्रिस गेल ने 21 छक्के लगाए थे. वहीं 2018 में सीएसके के 145 छक्कों में शेन वाटसन ने सबसे ज्यादा 35, अंबाती रायडू ने 34 और एमएस धोनी ने 30 छक्के लगाए. वहीं सुरेश रैना ने 12 और ड्वेन ब्रावो ने 10 छक्के लगाए.

लेकिन इस रिकॉर्ड पर लोगों का ध्यान क्यों नहीं गया. इसकी वजह थी वह फाइनल मैच. इस मैच से पहले चेन्नई इस रिकॉर्ड के बहुत दूर नहीं तो बहुत पास भी नहीं था लेकिन जिस तरह से हैदराबाद की पहली पारी में बल्लेबाजी और गेंदबाजी हुई किसी को उम्मीद ही नहीं थी कि दूसरी पारी में क्या हो जाएगा.

दरअसल फाइनल मैच में पहली पारी में तो मुकाबला बहुत रोमांचक रहा. कभी चेन्नई के गेंदबाज हैदराबाद की बल्लेबाजी पर हावी होते नजर आए तो कभी हैदराबाद के केन विलियमसन और उनके बाद युसुफ पठान ने चेन्नई के गेंदबाजों की नाक में दम कर दिया. इस उतार चढ़ाव भरी पारी में हैदराबाद ने स्कोर बोर्ड पर 178 लगाए तो लगा कि यह एक मुश्किल भले ही नहीं लेकिन चुनौतीपूर्ण स्कोर जरूर रहेगा चेन्नई के बल्लेबाजी की लिए. पिछले तीन मैच में तो ऐसा ही हुआ था.

शेन वाटसन ने वो कर दिया जिसकी किसी को उम्मीद नहीं थी
पहले पांच ओवर में लगा की हैदराबाद की गेंदबाजी चेन्नई की बल्लेबाजी को अपने तूफान में ले उड़ेगी. शेन वाटसन ने पहली दस गेंदें डॉट बॉल खेलीं लेकिन जब शेन वाटसन के बल्ले से रन निकलने शुरु हुए तो उनकी शानदार आतिशी पारी ने पूरा मैच ही पलट कर रख दिया. वाटसन ने हैदराबाद की सबसे बड़ी ताकत को ही उनकी कमजोरी बना डाला.

इस तरह से शेन वाटसन का तूफान ने हैदराबाद के लिए ऐसी तबाही मचाई कि किसी का ध्यान ही टीम के इस रिकॉर्ड की तरफ नहीं गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help