अगर आपके फोन में सेव है UIDAI के नाम से यह नंबर, तो वजह जानना है जरूरी

publiclive.co.in [EDITED BY SIDDHARTH SINGH]

नई दिल्‍ली: ट्राई चेयरमैन आरएस शर्मा के Twitter पर अपना आधार नंबर सार्वजनिक करने के कुछ ही दिन बाद UIDAI सोशल मीडिया पर शुक्रवार को फिर सवालों के घेरे में आ गया. इस बार सवाल एंड्रॉयड स्‍मार्टफोन यूजर की कांटेक्‍ट लिस्‍ट में अचानक UIDAI का हेल्‍पलाइन नंबर 18003001947 डिस्‍प्‍ले होने पर उठा है. टि्वटर पर एक यूजर ने ट्वीट कर पूछा-क्‍या आपके फोन की कांटेक्‍ट लिस्‍ट में यूआईडीएआई का हेल्‍पलाइन डिस्‍प्‍ले हो रहा है? इसके तुरंत बाद तहलका मच गया.

यूनिक आईडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) ने हालांकि बयान जारी कर कहा कि उसने किसी मोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर या टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर से प्राधिकरण का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 18003001947 स्‍मार्टफोन पर अपडेट करने को नहीं कहा है. प्राधिकरण ने यह भी कहा कि यह नंबर वैध नहीं है. कुछ लोग प्राधिकरण को लेकर भ्रम फैला रहे हैं. प्राधिकरण का वैध हेल्‍पलाइन नंबर 1947 है, जो बीते दो साल से काम कर रहा है.

क्‍या है मामला
स्‍मार्टफोन में प्राधिकरण का नंबर अचानक डिस्‍प्‍ले होने के बाद सोशल मीडिया पर यूजर ने निजता का मुद्दा उठाते हुए इस पर चिंता जाहिर की. हालांकि यह नंबर सभी स्‍मार्टफोन में नहीं दिख रहा है. लेकिन ज्‍यादातर एंड्रॉयड फोन में यह शो हो रहा है. इस खबर के वायरल होने के बाद कई लोग अपना फोन चेक करते पाए गए.

क्‍या है कारण
ज्‍यादातर नए एंड्रॉयड स्‍मार्टफोन में जीमेल एकाउंट को लिंक करने की बाध्‍यता होती है. ऐसा करने से कांटेक्‍ट लिस्‍ट फोन में अपने आप अपडेट हो जाती है. जानकारों की मानें तो प्राधिकरण का नंबर वहीं से हर फोन में अपडेट हुआ है. 18003001947 प्राधिकरण का पुराना नंबर है जो अब इस्‍तेमाल में नहीं है. इसलिए अगर आपको फोन में यह नंबर दिख रहा है तो उसे एडिट कर 1947 कर लें, जो वर्किंग है.

नई दिल्‍ली: ट्राई चेयरमैन आरएस शर्मा के Twitter पर अपना आधार नंबर सार्वजनिक करने के कुछ ही दिन बाद UIDAI सोशल मीडिया पर शुक्रवार को फिर सवालों के घेरे में आ गया. इस बार सवाल एंड्रॉयड स्‍मार्टफोन यूजर की कांटेक्‍ट लिस्‍ट में अचानक UIDAI का हेल्‍पलाइन नंबर 18003001947 डिस्‍प्‍ले होने पर उठा है. टि्वटर पर एक यूजर ने ट्वीट कर पूछा-क्‍या आपके फोन की कांटेक्‍ट लिस्‍ट में यूआईडीएआई का हेल्‍पलाइन डिस्‍प्‍ले हो रहा है? इसके तुरंत बाद तहलका मच गया.

यूनिक आईडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) ने हालांकि बयान जारी कर कहा कि उसने किसी मोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर या टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर से प्राधिकरण का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 18003001947 स्‍मार्टफोन पर अपडेट करने को नहीं कहा है. प्राधिकरण ने यह भी कहा कि यह नंबर वैध नहीं है. कुछ लोग प्राधिकरण को लेकर भ्रम फैला रहे हैं. प्राधिकरण का वैध हेल्‍पलाइन नंबर 1947 है, जो बीते दो साल से काम कर रहा

ट्राई चेयरमैन ने सोशल मीडिया पर डाला आधार नंबर
ट्राई चेयरमैन के अपना आधार नंबर सोशल मीडिया पर शेयर करने पर यूआईडीएआई ने एक बयान में कहा था कि इस प्रकार की चीजें अनावश्यक हैं और इससे बचा जाना चाहिए क्योंकि यह कानून के अनुरूप नहीं है. शर्मा ने शनिवार को अपनी आधार संख्या सार्वजनिक करते हुए यह चुनौती दी थी कि कोई यह बताए कि इस संख्या को जानकर कैसे वह उन्हें नुकसान पहुंचा सकता है. उसके बाद कुछ ने ट्विटर पर दावा किया कि उन्हें शर्मा की बैंक खाता संख्या और ई-मेल मिल गया है. हालांकि शर्मा ने इससे इनकार किया और इसे गलत बताया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help