राहुल गांधी ने पूछा, ‘अनिल अंबानी और मोदी जी के बीच क्या डील है?’

publiclive.co.in[Edited by RANJEET]
राफेल डील को लेकर एक बार मोदी सरकार पर हमला करते हुए गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी को देश के युवाओं, छोटे दुकानदारों को जवाब देना है. इन्होंने इन लोगों से पैसा छीनकर देश के 15 अमीर लोगों को दिया है. राफेल डील पर अनिल अंबानी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि पीएम मोदी और अनिल अंबानी के बीच क्या डील हुई है ये देश के सामने आना चाहिए. राहुल गांधी ने अनिल अंबानी द्वारा मानहानि का केस किए जाने के सवाल पर कहा कि अनिल जी को कांग्रेस पार्टी के खिलाफ हर जिले में मानहानि लगाना है तो लगाए.

नोटबंदी कोई गलती नहीं थी
राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी का उद्देश्य हिंदुस्तान के 15-20 सबसे बड़े क्रोनी कैप्टलिस्टों की ब्लैक मनी को सफेद में बदलने की साजिश थी. उन्होंने कहा कि ये छोटे दुकानदारों को खत्म करके बड़ी कंपनियों को मदद करना ही इसका उद्देश्य था. उन्होंने कहा कि नोटबंदी कोई गलती नहीं थी. ये लोगों पर जानबूझकर कुल्हाड़ी मारी गई थी. ये बड़ी कंपनियों के लिए रास्ता खोलने केलिए उठाया गया कदम था. उन्होंने कहा कि आप देखेंगे कि नोटबंदी एक घोटाले से ज्यादा कुछ नहीं है. धीरे-धीरे इसकी सच्चाई सामने आएगी. पीएम मोदी के माफी मांगने के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा कि माफी वहां मांगी जाती है, जहां गलती होती है लेकिन यहां कोई गलती नहीं थी. ये उन उद्योगपतियों को मदद पहुंचाने के लिए उठाया गया कदम था जिनके साथ पीएम मोदी हर दूसरे दिन टीवी पर दिखाई देते है. क्रोनी कैप्टिलिसिट मोदी जी की मार्किटिंग करते है मोदी जी जनता से पैसा छीनकर क्रोनी कैप्टिलिस्ट को देते है.

कांग्रेस पार्टी ने देश को चलाकर दिखाया है. जब पीएम मनमोहन सिंह थे आप हमारा रिकॉर्ड देख लीजिए. अरुण जेटली और मोदी जी ने भारत की अर्थव्यवस्था को खत्म कर दिया है. पहले ये 20 प्वाइंट प्रोग्राम हुआ करता था लेकिन अब वन प्वाइंट प्रोग्राम है कि हिंदुस्तान के क्रोनी कैपटिस्टों को कैसे मदद करें.

अरुण जेटली जी के सवाल को मैं स्वीकार करता हू्ं, मैंने जेटली जी को एक ऑप्शन दिया, आप ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमेटी बैठकार सवाल पूछिए. सबको पता चल जाएगा कि राफेल डील में क्या हुआ. जेटली जी ने जीपीसी केबारे में कुछ नहीं बोला. मुझे लगता है कि जेटली जी फंस गए है. क्योंकि फैसला तो मोदी जी को लेना है.

अनिल अंबानी ने कभी हवाई जहाज नहीं बनाया है. अनिल अंबानी 45 हजार करोड़ के कर्जे में है. दूसरी तरफ एचएएल है. 70 सालों से हवाई जहाज बना रही है. जो हवाई जहाज 520 करोड़ का था वो आपने 1600 करोड़ में क्यों खरीदा? लेकिन जेटली जी मुझसे सवाल पूछ रहे है. पूरा देश जानना चाहता है कि अनिल अंबानी जी ने और मोदी जी ने क्या डील की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help