भारत के खिलाफ फ्लॉप चल रहे कुक का संन्यास का ऐलान, ओवल में खेलेंगे विदाई टेस्ट

publiclic.co.in[Edited by RANJEET]
इंग्लैंड के सबसे सफल बल्लेबाज एलिस्टेयर कुक ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है. वे भारत के खिलाफ मौजूदा सीरीज के बाद क्रिकेट को अलविदा कहेंगे. भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां टेस्ट 7 नवंबर से ओवल में खेला जाएगा. यह मैच उनका विदाई टेस्ट भी होगा. 33 साल के कुक ने 2006 में भारत के खिलाफ ही अपना पहला टेस्ट खेला था.

इंग्लैंड क्रिकेट ने ट्वीट कर कहा कि कुक ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है. कुक ने कहा, ‘मैंने अपनी क्षमता और उम्मीद से अधिक उपलब्धि हासिल की है. मैं खुशकिस्मत है कि मुझे कई दिग्गजों के साथ इतने लंबे समय तक खेलने का मौका मिला. मैंने काफी सोच विचार के बाद संन्यास का निर्णय लिया है. यह यह फैसला लेना मुश्किल था, लेकिन यही सही समय है।’

बुरी फॉर्म से हार गया दिग्गज क्रिकेट
कुक का रिकॉर्ड भले ही प्रभावशाली हो, लेकिन वे करीब एक साल से बुरी फॉर्म से गुजर रहे हैं. वे भारत के खिलाफ मौजूदा सीरीज में तो वे 4 मैचों की 7 पारियों में 109 रन ही रन बना पाए हैं. उनका औसत 15.57 है. उनका इस सीरीज में हाईएस्ट स्कोर 29 रन है. उन्होंने 2018 में 9 टेस्ट मैच खेले हैं. वे इनमें 18.62 की औसत से 298 रन ही बना पाए.

टेस्ट में 12 हजार से ज्यादा रन बनाए
12254 रन बनाए है. इनमें 32 शतक और 56 अर्धशतक शामिल हैं. उनसे ज्यादा रन सिर्फ सचिन तेंडुलकर (15921) , रिकी पोंटिंग (13378), जैक कैलिस (13289), राहुल द्रविड़ (13288) और कुमार संगकारा (12400) ही बना सके हैं. मौजूदा क्रिकेटरों में कुक के आसपास भी कोई नहीं है. अब मौजूदा क्रिकेटरों में सबसे ज्यादा रन हाशिम अमला (9022) के नाम हैं.

सबसे अधिक टेस्ट में कप्तानी का रिकॉर्ड
कुक ने 59 टेस्ट मैचों में कप्तानी की. उनके नाम इंग्लैंड की ओर से सबसे अधिक टेस्ट मैच में कप्तानी करने का रिकॉर्ड है. इग्लैंड ने उनकी कप्तानी में 24 मैच जीते, 22 हारे और 13 ड्रॉ खेले. कुक ने बतौर कप्तान 46.57 की औसत से 4844 रन बनाए. इनमें 12 शतक और 24 अर्धशतक शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help