नौकरी मिलने के मामले में पिछले 11 महीने में जुलाई रहा ‘सबसे बेस्‍ट’, हुईं बंपर भर्तियां

publiclive.co.in[EDITED BY SIDDHARTH SINGH]

देश में रोजगार और नौकरी एक बड़ा मुद्दा है. कभी इसमें सुधार तो कभी गिरावट का रुख रहता है. लेकिन अच्छी खबर यह है जुलाई महीने में नई नौकरियां बीते 11 माह में सबसे अधिक पैदा हुईं. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के पेरोल डाटा रिपोर्ट में यह बात सामने आई है. जुलाई में कुल 9.51 लाख नई नौकरियां पैदा हुईं.

रिपोर्ट के मुताबिक, जुलाई के आंकड़ों को मिलाने के बाद सितंबर 2017 से अबतक कुल 61.81 लाख नए लोग ईपीएफओ से जुड़े हैं. नए लोग जो जुड़े हैं उनमें कई अलग-अलग क्षेत्रों के कर्मचारी हैं. इसमें पेंशन, पीएफ और इंश्योरेंस आदि शामिल हैं. ईपीएफओ के मुताबिक, जुलाई में कुल 9,51,423 नए कर्मचारी जुड़े हैं.

18-21 साल के युवा रिकॉर्ड संख्या में
ईपीएफओ का पेरोल डाटा दिखाता है कि सितंबर 2017 से जुलाई 2018 के दौरान 61,81,943 नई नौकरियां सृजित हुई हैं. इसमें जुलाई के दौरान 18 से 21 साल के युवा कर्मचारियों की संख्या रिकॉर्ड 2,68,021 रही. इसके बाद 22 से 25 साल के कर्मचारियों की संख्या 2,54,827 रही.

ईपीएफओ ने अपने बयान में कहा है कि डाटा हालांकि अस्थायी है जो लगातार अपडेट होते रहते हैं. इनमें ऐसे भी कई कर्मचारी हो सकते हैं जिनका योगदान ईपीएफओ में सालभार लगातार न रहे. जैसा कि आप जानते हैं ईपीएफओ संगठित क्षेत्र और अर्द्धसंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों की सामाजिक सुरक्षा कोष का प्रबंधन करता है.

epfo

तीन स्कीम चलाता है ईपीएफओ
यह तीन सामाजिक सुरक्षा योजना चलाता है- प्रोविडेंट फंड स्कीम 1952, एम्प्लॉइज डिपोजिट लिंक्ड स्कीम 1976 और एम्प्लॉइज पेंशन स्कीम 1995. ईपीएफओ करीब 6 करोड़ से भी अधिक खातों का प्रबंधन करता है और इसके प्रबंधन के दायरे में कुल रकम 10 लाख करोड़ रुपए से अधिक है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help