टीम इंडिया के लिए खेलने को तैयार है अंडर-19 का एक और बड़ा सितारा

publiclive.co.in [EDITED BY RANJEET]

भारत के उभरते हुए युवा बल्लेबाज शुभमन गिल ने अपनी आतिशी पारी के दम पर टीम को देवधर ट्रॉफी के फाइनल में जगह दिलवाई है. भारत सी के लिए शानदार शतक जड़ने वाले शुभमन ने अपनी इस कामयाबी पर कहा कि वह अंडर-19 टीम के अपने कप्तान पृथ्वी शॉ के नक्शेकदम पर चलते हुए भारतीय टीम की तरफ से खेलने के लिए तैयार हैं, लेकिन वह अपने लिये मौके का पूरे धैर्य के साथ इंतजार कर रहे हैं. भारतीय टीम में सभी प्रारूपों में जगह बनाना आसान नहीं है और इसलिए पंजाब के इस युवा बल्लेबाज को लंबा इंतजार करना पड़ सकता है. यह 19 वर्षीय बल्लेबाज हालांकि इससे परेशान नहीं है और अधिक से अधिक रन बनाने में व्यस्त है.

शुभमन गिल से जब पूछा गया कि पृथ्वी शॉ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू कर चुका है और उन्होंने अपने लिए क्या समयसीमा तय की है. इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा, ”मैं तैयार हूं. मुझे वेस्टइंडीज के खिलाफ मौका नहीं मिला लेकिन मुझे अगली सीरीज में अवसर मिल सकता है. मैं रन बनाकर खुश हूं.”

अपेक्षाओं के बारे में गिल ने कहा, ”ये चीजें आपके दिमाग में तभी तक रहती हैं जब तक कि आप क्रीज पर नहीं उतरते. जब आप मैदान पर जाते हो तो फिर केवल रन बनाने के बारे में सोचते हो. मैं यह नहीं सोचता कि अगर मैं आउट हो गया तो क्या होगा. ”

Stars of Team ‘Rahul Dravid’ likely to knock for entry in Team India of Virat kohli
शुभमन गिल के शतक से भारत सी को देवधर ट्रॉफी के फाइनल में
शुभमन गिल ने सही समय पर शतक जड़कर भारत सी को भारत ए पर छह विकेट से जीत दिलाकर देवधर ट्रॉफी एकदिवसीय टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचाया. अंडर-19 स्टार गिल ने तीन चयनकर्ताओं की मौजूदगी में 111 गेंदों पर नाबाद 106 रन बनाकर दिखाया कि आखिर उन्हें भारतीय क्रिकेट का अगला सितारा क्यों कहा जा रहा है. उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके और तीन छक्के लगाए.

भारत सी के सामने 294 रन का लक्ष्य था लेकिन उसने तीन विकेट 85 रन पर गंवा दिए. ऐसे समय में गिल ने पारी संवारी. उन्हें इशान किशन (60 गेंदों पर 69 रन) और सूर्यकुमार कुमार यादव (36 गेंदों पर नाबाद 56) का अच्छा सहयोग मिला जिससे भारत सी 47 ओवर में चार विकेट पर 296 रन बनाकर शनिवार को होने वाले फाइनल में जगह बनाने में सफल रहा.

गिल की यह विशेष पारी केदार जाधव की अपने वापसी मैच में धुआंधार पारी के बाद देखने को मिली. जाधव ने डेथ ओवरों में 25 गेंदों पर 41 रन बनाकर भारत ए का स्कोर छह विकेट पर 293 रन तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई. भारत ए को शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों अभिमन्यु ईश्वरन (103 गेंदों पर 69 रन), अनमोलप्रीत सिंह (56 गेंदों पर 59) और नितीश राणा (76 गेंदों पर 68 रन) ने अर्धशतक जड़कर अच्छी शुरुआत दिलाई थी.

लक्ष्य हासिल करना आसान नहीं था लेकिन गिल ने किशन के साथ 121 और सूर्यकुमार के साथ 90 रन की अटूट साझेदारी करके भारत सी को यादगार जीत दिलाई. उन्होंने पंजाब के अपने साथी सिद्धार्थ कौल के ओवर में शतक जमाया और फिर इसी ओवर में विजयी चौका लगाया. रविचंद्रन अश्विन, कौल, धवल कुलकर्णी और मोहम्मद सिराज जैसे गेंदबाजों के सामने गिल को रन बनाने में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई. गिल ने अपने तीन में से एक छक्का अश्विन पर लगाया.

भारत सी के कप्तान अंजिक्य रहाणे (25 गेंदों पर 14 रन) फिर से नहीं चल पाये. अभिनव मुकुंद ने 40 गेंदों पर 37 रन बनाए. इससे पहले जाधव ने महत्वपूर्ण पारी खेली. उन्हें मासंपेशियों में खिंचाव के कारण वेस्टइंडीज के खिलाफ वन-डे सीरीज के लिए टीम में नहीं चुना गया है. भारत ए ने टॉस जीतकर ठोस शुरुआत की. ईश्वरन और अनमोलप्रीत ने पहले विकेट के लिए 99 रन जोड़े. पृथ्वी शॉ चोटिल होने के कारण इस मैच में नहीं खेले. उनके स्थान पर अंतिम एकादश में जगह बनाने वाले ईश्वरन ने धीमी बल्लेबाजी की. ईश्वरन ने राणा के साथ भी 76 रन की साझेदारी की.

कप्तान दिनेश कार्तिक (23 गेंदों पर 32 रन) लंबे समय तक नहीं टिक पाए. भारत ए का स्कोर 40 ओवर के बाद तीन विकेट पर 201 रन था. जाधव ने यहीं से तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की. उन्होंने अपनी पारी में दो चौके और दो छक्के लगाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help