PM मोदी जिन BJP सपोर्टर को Twitter पर फॉलो करते हैं, उन्होंने पार्टी की हार पर क्या कहा?

publiclive.co.in[Edited by Ranjeet]पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में बीजेपी अपनी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सकी है. खासतौर से हिंदी पट्टी के तीन राज्यों में पार्टी के प्रदर्शन से उसके समर्थकों में निराशा है, हालांकि कुछ लोग अब 2019 के लिए कमर कसने की बात भी कर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बड़ी संख्या में आम बीजेपी समर्थकों को ट्विटर पर फॉलो करते हैं. आइए जाने कि पीएम जिन समर्थकों को ट्विटर पर फॉलो करते हैं, उन्होंने पार्टी की हार पर कैसी प्रतिक्रिया दी.

हौसला बढ़ाने की कोशिश
1. जितेंद्र सिंह ने लिखा है कि लंबी छलागं लगाने के लिए कुछ कदम पीछे आना जरूरी होता है. एक तरह से उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने की कोशिश की है और इसमें 2019 की तैयारी में जुटने की अपील भी है.

2. अंकुर जैन कहते हैं कि ये नतीजे किसी बॉलीवुड फिल्म की तरह है, जहां क्लाइमैक्स में पहले विलेन जीतता हुआ लगता है, लेकिन अंत में जीत हीरो की होती है. हालांकि उन्होंने आत्ममंथन का सबक भी दिया.

3. ‘हम भारत के लोग’ नाम के यूजर ने बीजेपी के बहुत कम वोट से हारने का जिक्र किया है और कार्यकर्ताओं से 2019 में मतदान करने की अपील की है.

4. डॉक्टर पराग लिखते हैं कि एक बार फिर जयचंदों से छला गया पृथ्वीराज. इस तरह उन्होंने बीजेपी की हार के लिए अपनों को ही जिम्मेदार ठहराया है.

EVM को लेकर कांग्रेस पर तंज
5. अनिल कोहली कहते हैं कि 2019 का चुनाव नहीं जीते तो सारी मेहनत बेकार चली जाएगी. बीजेपी को अब कठिन परिश्रम करना होगा.

6. शिल्पी तिवारी ने राहुल गांधी के नेतृत्व को सीधे श्रेय तो नहीं दिया, लेकिन ये कहा कि उन्होंने सही टीम बनाई, जिसका नतीज कांग्रेस की जीत के रूप में आया है.

7. रिषी बागरी ने ईवीएम को लेकर विपक्ष के आरोपों पर ताना मारा और कहा है कि हार के बावजूद एक भी बीजेपी सपोर्टर ने ईवीएम को दोषी नहीं ठहराया.

8. नंदिता ठाकुर नाराज बीजेपी समर्थकों और कांग्रेस पार्टी दोनों पर ताना कस रही हैं. उन्होंने लिखा कि क्या अब कांग्रेस एससी/एसटी एक्ट को खत्म कर देगी. क्या अपर क्लास को रिजर्वेशन दे देगी. इन्हीं मुद्दों पर बीजेपी समर्थक पार्टी से नाराज थे.

9. आलोक भट्ट ने लिखा है कि पार्टी ने अच्छा काम किया, लेकिन स्थानीय स्तर पर बीजेपी के नेता भ्रष्ट हैं, जिसके चलते ये हार हुई है.

बीजेपी से नाराजगी
10. यशस्वी कहती हैं कि आयकर के दायरे में जो लोग आए, उन्होंने पार्टी के खिलाफ वोट किया. बीजेपी आयकर दायरे में अधिक लोगों के शामिल होने को अपनी उपलब्धि की तरह पेश करती है.

11. स्किन डॉक्टर नाम के यूजर ने लिखा है कि राइटविंग के लोगों को अब विपरीत विचारों का सम्मान करना चाहिए. अगर अपने लोग बीजेपी की आलोचना कर रहे हैं, तो उन पर हमला करने से वो और दूर चले जाते हैं.

12. स्वस्ती सरकार ने गुस्से में लिखा है कि बीजेपी ने रोजगार, किसान जैसे आज के मुद्दे पर बात नहीं की और पीएम मोदी नेहरू, इंदिरा की बातें करते रहे. उन्होंने कैसे सोच लिया कि वोटर इतिहास के आधार पर वोट करता है.

13. योगी आदित्यनाथ फैन्स नामक यूजर सबसे ज्यादा गुस्से में दिखा. उसने लिखा कि राम मंदिर का निर्माण करो और कश्मीर में आतंकवाद का खात्मा करो, गैस-पेट्रोल के दाम कम करो या फिर नरेंद्र मोदी को 2019 में बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा.


14. इमिनेंट इंटेलेक्चुअल ने बीजेपी को उन वादों की याद दिलाई, जिन्हें उनसे पूरा नहीं किया. जैसे राम मंदिर, कमंडल और धारा 370.

15. राधा राजू ने लिखा कि बीजेपी की हार से सबसे अधिक जमीन स्तर का कार्यकर्ता दुखी है.

ये सभी वे लोग हैं जिन्हें पीएम मोदी ट्विटर पर फॉलो करते हैं. जाहिर तौर पर इनकी राय मायने रखती है और उम्मीद है कि पांच राज्यों में मिली हार के बाद बीजेपी ऐसे ही कई अन्य कार्यकर्ताओं के मन की बात को सुनेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help