अयोध्‍या में आज से शुरू होगा समरसता कुंभ, प्रयागराज में जुटेंगे 72 देशों के राजदूत

publiclive.co.in[Edited by Ranjeet]
अयोध्‍या में आज से दो दिनी समरसता कुंभ का आयोजन हो रहा है. डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय में आयोजित होने वाले इस समरसमा कुंभ का उद्घाटन प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ करेंगे. मुख्‍यमंत्री करीब 1 घंटे तक कार्यक्रम में रहेंगे. साथ ही 16 दिसंबर को इसका समापन केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत करेंगे. पहले इसका समापन राज्‍यपाल रामनाईक को करना था.

वहीं दूसरी ओर प्रयागराज में भी आज कुंभ 2019 को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. इसमें 72 देशों के राजदूत शिरकत करेंगे. विदेश राज्‍य मंत्री वीके सिंह इन सभी को विशेष विमान से लेकर प्रयागराज पहुंचेंगे. ये सभी राजदूत यहां कुंभ की तैयारियों का जायजा लेंगे और अपने-अपने देशों का झंडा फहराएंगे. अगले साल होने वाले कुंभ मेले के संदर्भ में पांच स्थानों पर हो रहे विचार कुंभ के मद्देनजर अगले तीन विचार कुंभ के आयोजन स्थल और तारीखों का निर्धारण कर दिया गया है.

अयोध्या में ‘समरसता-कुंभ’ का आयोजन 15 और 16 दिसंबर को हो रहा है. वहीं लखनऊ में ‘युवा कुंभ’ का आयोजन 22 और 23 दिसंबर को और प्रयागराज में ‘संस्कृति-कुंभ’ का आयोजन 30 जनवरी, 2019 को होगा. वाराणसी और वृंदावन में दो विचार कुंभ का आयोजन पहले ही हो चुका है.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 दिसंबर को प्रयागराज आकर कुंभ की तैयारियों को लेकर पूर्ण हुई परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे. उन्‍हें यहां लगभग 3500 करोड़ रुपये के कार्यों का लोकार्पण करेंगे. उनसे पहले आज (15 दिसंबर) इसी क्रम में करीब 72 देशों के राजदूत भी प्रयागराज आएंगे.

दरअसल यूनेस्को ने कुंभ मेले को अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के रूप में मान्यता दी है जिससे दुनियाभर के देशों की रुचि विश्व के इस सबसे बड़े मेले को लेकर बढ़ी है. प्रयागराज आने वाले राजदूतों को यहां मेले की तैयारियों, सुरक्षा और अन्य पहलुओं से रूबरू कराया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 दिसंबर को जिले में एक बड़ी सभा को भी संबोधित करेंगे. प्रयागराज के अलावा कौशांबी, प्रतापगढ़ और भदोही से भी बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता और श्रद्धालु इस सभा में शामिल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help