PoK में भारतीय वायुसेना ने आतंकी कैंपों पर ‘इन बमों’ से मचाई तबाही,

publiclive.co.in[Edited by Arti Parihar]
वायुसेना द्वारा मंगलवार तड़के पाक अधिकृत कश्‍मीर (PoK) में हवाई कार्रवाई कर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के प्रमुख ठिकानों को तबाह किए जाने के दौरान इस पूरे ऑपरेशन की रिकॉर्डिंग की गई. इस ऑपरेशन के दौरान लड़ाकू विमान जगुआर ने इस पूरे ऑपरेशन को रिकॉर्ड किया. सूत्रों के अनुसार, भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने लेजर गाइडेड बमों के जरिये हवाई कार्रवाई की, जिसमें 200 से 300 आतंकी मारे गए हैं. बताया जा रहा है कि इस हमले में जैश-ए-मोहम्‍मद, हिजबुल मुजाहिद्दीन और लश्‍कर-ए-तैयबा के आतंकी मारे गए हैं.

भारतीय वायुसेना की पश्चिमी कमांड ने इस पूरे ऑपरेशन को अंजाम दिया. पाकिस्‍तान को काफी बाद में समझ आया कि जगुआर बमबारी कर रहे हैं.

पाकिस्‍तान के लड़ाकू विमान एफ-16 ने शुरुआत में उड़ान तो भरी, लेकिन भारतीय वायुसेना के विमानों के बड़े आकार को जानने के बाद वह वापस लौट आए, क्‍योंकि उन्‍हें पूरा आभास था कि भारतीय वायुसेना उनके विमान को भी नीचे गिरा देगी.

उधर, सूत्रों की मानें तो PoK में हवाई कार्रवाई कर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के प्रमुख ठिकानों को तबाह किए जाने के बाद इंडियन एयरफोर्स हाई अलर्ट पर है. भारत की तरफ से अपनी वायुसेना को अपने सभी एयर डिफेंस सिस्‍टमों को अंतरराष्‍ट्रीय बॉर्डरों और एलओसी पर हाईअलर्ट पर रखने के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही निर्देश दिए गए कि अगर पाकिस्‍तानी एयरफोर्स कोई भी कार्रवाई करती है, उसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाए. न्‍यूज एजेंसी एएनआई ने यह जानकारी दी है.

उधर, PoK में हवाई हमले कर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के प्रमुख ठिकानों को तबाह किए जाने के बाद पाकिस्‍तान में इमरजेंसी मीटिंग बुलाई गई है. पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारतीय सैन्य विमान द्वारा की गई हवाई कार्रवाई के बाद विदेश कार्यालय में एक आपातकालीन परामर्श बैठक बुलाई है. इस बैठक में पूर्व विदेश सचिवों और वरिष्ठ राजनयिक भाग लेंगे, जिसमें वर्तमान स्थिति पर विचार-विमर्श किया जाएगा. पाकिस्तानी अख़बार डॉन की वेबसाइट में प्रकाशित खबर में यह जानकारी दी गई है.

सूत्रों के अनुसार, भारत की तरफ से पीओके में बालाकोट, चकोटी और मुजफ्फराबाद में सुबह 3.30 बजे इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया. इस हमले में बालाकोट में जैश का कंट्रोल रूम पूरी तरह से तबाह हो गया.

जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर पाकिस्‍तान समर्थित जैश-ए-मोहम्‍मद द्वारा किए गए आतंकी हमले से नाराज भारत की तरफ से यह कार्रवाई की गई है. फिलहाल पीएम मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और एनएसए एक अहम बैठक कर रहे हैं.

सूत्रों के मुताबिक, भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए इन हवाई हमलों के बाद भारत के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूरे घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी.

सूत्रों के अनुसार, जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर पाकिस्‍तान समर्थित जैश-ए-मोहम्‍मद द्वारा किए गए आतंकी हमले से नाराज भारत की तरफ से मंगलवार तड़के PoK में जैश के प्रमुख ठिकाने पर कार्रवाई कर दी गई. भारतीय वायुसेना की तरफ से की गई इस ‘हवाई स्‍ट्राइक’ में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चल रहे जैश के आतंकी कैंपों को निशाना बनाते हुए बमबारी की गई की गई. इस ‘सर्जिकल स्‍ट्राइक’ को लेकर भारतीय सेना और भारतीय वायुसेना कुछ समय बाद एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करेंगे और जानकारी साझा करेंगे.

सूत्रों की मानें तो भारतीय वायुसना के 12 मिराज-2000 लड़ाक विमानों ने जैश के आंतकी ठिकानों पर 1000 किलो से ज्यादा विस्फोटक गिराए. इन विस्‍फोटकों ने जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help