जम्मू बस स्टैंड पर ग्रेनेड हमला, 1 व्यक्ति की मौत, 30 से ज्यादा घायल, 1 संदिग्ध गिरफ्तार

Publiclive.co.in[Edited by Rashmi Jain] जम्मू में बस स्टैंड पर हुए आतंकी ब्लास्ट में एक व्यक्ति के मारे जाने की खबर है जबकि 30 ज्यादा लोग घायल हुए है. इस धमाके में घायल लोगों में से 6 की हालत गंभीर बताई जा रही है. घायलों के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रह है कि आतंकियों ने यहां एक बस को निशाना बनाते हुए ग्रेनेड फेंका. पुलिस ने इस धमाके को आतंकी ब्लास्ट बताया है. जम्मू कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ ने पूरे इलाके को खाली करा लिया है. इस हमले में मरे वाले युवक का नाम मोहम्मद शारिक (17 साल) बताया जा रहा है और वह उत्तराखंड के रहने वाले थे.

ताजा जानकारी के मुताबिक पुलिस ने इस हमले में शामिल एक संदिग्ध को पकड़ लिया है. आरोपी दक्षिण कश्मीर का रहनेवाला है. ऐसा बताया जा रहा है कि इस हमले को दो से तीन लोगों ने अंजाम दिया था. इस मामले में पुलिस ने अब तक 12 संदिग्धों को हिरासत में लिया है. जिनसे पूछताछ की जा रही है.

सूत्रों के हवाले से ये भी खबर है कि ये हमला कश्मीर में मौजूद आतंकी ग्रुप ने किया है. ऐसा भी बताया जा रहा है कि इस ग्रेनेड हमले की खुफिया जानकारी पहले से थी. सुरक्षा एजेंसियों को 2-3 ऐसे इनपुट मिले थे जिसमें आतंकी ग्रेनेड हमले की कोशिश करने की साजिश में लगे थे.

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज (जीएमसी) अस्पताल की प्रधानाचार्या सुनंदा रैना ने मीडिया बताया, “अब तक 28 घायलों को यहां लाया गया है. इनमें से तीन की हालत गंभीर है और दो का ऑपरेशन किया जा रहा है.” जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) एम के सिन्हा ने बताया कि प्रारंभिक जांच से लगता है कि किसी ने दोपहर के वक्त बस स्टैंड इलाके में हथगोला फेंका जिसके चलते विस्फोट हुआ.

तत्काल मौके पर पहुंचे एवं स्थिति का जायजा लेने वाले सिन्हा ने बताया कि विस्फोट के बाद बी सी रोड के आसपास के इलाके की घेराबंदी कर दी गई और हथगोला फेंकने वाले को पकड़ने के लिए बड़े स्तर पर तलाश अभियान चलाया जा रहा है.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि विस्फोट में बस स्टैंड पर खड़ी सरकारी बस को बहुत ज्यादा नुकसान हुआ. आईजी ने कहा, “जब भी चौकसी ज्यादा होती है, हम जांच-पड़ताल सख्त कर देते हैं लेकिन किसी-किसी के उससे बच निकलने की आशंका रहती है और यह ऐसा ही मामला लग रहा है.”

उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने का आग्रह करते हुए कहा, “निश्चित तौर पर मंशा सांप्रदायिक शांति एवं सौहार्द बिगाड़ने की थी.” उन्होंने बताया कि पुलिस सबूत इकठ्ठे कर रही है और “हम निश्चित तौर पर उसे (हमलावर को) ढूंढ निकालेंगे.”

धमाके के फौरन बाद लोग सुरक्षित स्थानों पर दौड़े और स्थिति सामान्य होने के बाद उन्हें निकाला गया एवं घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. अधिकारियों ने बताया कि पुलिस गश्त दल फॉरेन्सिक विशेषज्ञों एवं खोजी कुत्तों के साथ घटनास्थल पर पहुंचा और हमलावर को पकड़ने के लिए तलाश अभियान शुरू किया.

ओवैसी ने बयाया इंटेलिजेंस फेलियर
एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने जम्मू में ग्रेनेड हमले पर कहा है कि अब चुनाव करीब है तो सब चीज याद आती है. जम्मू में ब्लास्ट होता है तो इसका जिम्मेदार कौन है? इस पर जवाब दें.. इससे साफ जाहिर है कि इन चीज़ों को छिपाना होगा. ये लोग अपनी नाकामी छिपाने के लिए ऐसी बात करते हैं. संघ और बीजेपी हिंदुस्तान की विविधता को मानती ही नहीं है. ये लोग मुल्क के संविधान को नहीं मानते हैं. ऐसा नहीं चेलगा. जम्मू में धमाका होता है तो कौन जिम्मेदार है..आप नहीं है?

J&K: हंदवाड़ा में 1 आतंकी ढेर, एक और के छिपे होने की आशंका, रात से एनकाउंटर जारी
जम्‍मू और कश्‍मीर में सुरक्षाबलों को आतंकियों के साथ मुठभेड़ में बड़ी सफलता हाथ लगी है. यहां सुरक्षाबलों ने हंदवाड़ा के बांदरपेई इलाके में एनकाउंटर के दौरान एक आतंकी को गुरुवार सुबह मार गिराया है. साथ ही इलाके में एक और आतंकी के छिपे होने की आशंका पर सर्च ऑपरेशन लगातार जारी है. यह मुठभेड़ बुधवार रात को 09:32 बजे शुरू हुई थी. यहां सुरक्षाबलों को आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. इसके बाद इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया गया. इसी के बाद से आतंकियों और सुरक्षाबलों में मुठभेड़ शुरू हुई. सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर रखा है और साथ ही इलाके में एहतियात के तौर पर इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं. दोनों ओर से गोलीबारी जारी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help