प्वाइंट टेबल में अभी से आ गया है रोमांच, टॉप पर टिक नहीं पा रही है कोई टीम

publiclive.co.in [Edited by Rashmi jain]
नई दिल्ली: आईपीएल 2019 के मुकाबलों में हर टीम के आधे मैच पूरे होने वाले हैं. शुरुआत के पांच-पांच मैचों में ही इतने उतार चढ़ाव हो चुके हैं कि इस सीजन में टॉप टीमें ही एक दो दिन से ज्यादा तक अपना स्थान कायम नहीं रख पाई. इसके अलावा कोई भी टीम ऐसी निरंतरता नहीं दिखा सकी है कि निश्चित तौर पर कहा जा सके कि यह टीम तो प्ले ऑफ में पहुचेगी है. फिर भी कुछ फेवरेट्स तो हैं ही और कई प्रबल दावेदार अब भी प्रबल. आइए नजर डालते हैं आईपीएल के प्वाइंट टेबल और आगे संभावनाओं में पर एक नजर.

कोलकता और चेन्नई हैं सबसे आगे
वर्तमान की बात करें तो सोमवार 8 अप्रैल तक हुए मैचों में से सभी टीमें कम से कम 5-5 मैच तो खेल चुकीं है. वहीं कुछ टीमें छह-छह मैच भी खेल चुकीं हैं. शुरुआत करते हैं अभी की स्थिति से. फिलहाल प्वाइंट टेबिल में टॉप पर कोलकाता की टीम है. कोलकाता ने 5 में से चार मैच जीते हैं. उसके अलावा चेन्नई ने भी पांच में से चार मैच जीते हैं, लेकिन फिलहाल नेटरन रेट के कारण कोलकाता चेन्नई से आगे है. कोलकाता का नेट रनरेट +1.058 है वहीं चेन्नई का नेट रनरेट 0.159 है.

यह भी पढ़ें: जो पिछले साल कोई टीम न कर सकी, वह इस साल कोलकाता के गेंदबाजों ने कर दिया

मंगलवार को टॉप पर आने के लिए लड़ेंगे
इन दोनों टीमों के बीच मंगलवार को होने वाला मुकाबला दोनों के लिए अहम साबित हो गया. दोनों में से विजेता टीम जीत के अलावा अपना रनरेट भी बेहतर करना चहेगी. ऐसा नहीं है कि प्वाइंट टेबल में केवल कोलकाता और चेन्नई की लड़ाई है. और भी कई टीमें हैं जो टॉ़प में आने के लिए बेकरारार और दावेदार दोनों है. हालांकि अभी एक दो दिन तक टॉप दो स्थानों में चेन्नई और कोलकाता के बीच ही जंग रहेगी. वहीं मंगलवार को हारने वाली टीम के लिए दूसरा स्थान कुछ समय के लिए कायम रख सकेगी.
ज्यादा दूर नहीं है पंजाब और हैदराबाद
फिलहाल प्वाइंट टेबल में तीसरे स्थान पर छह मैचों के साथ पंजाब की टीम है जिसने 4 मैच जीते हैं और उसका नेट रनरेट -0.061 है. इसके अलावा बाकी किसी टीम ने भी अब तक चार मैच नहीं जीते हैं. चौथे स्थान पर हैदराबाद की टीम है. हैदराबाद की टीम ने पहला मैच गंवाकर लगातार तीन मैच जीते फिर दो मैचो में उसे हार मिली. नेट रनरेट के लिहाज से वह दूसरे स्थान पर है उसका नेट रनरेट +0.810 है जो केवल कोलकाता से कम है. हैदराबाद के लिए यह राहत की बात हो सकती है कि रनरेट में उसे ज्यादा मुश्किलें नहीं हैं. हां इस लिहाज से पंजाब के लिए आगे के मुकाबले आसान नहीं होने वाले.

मुंबई की पिक्चर अभी बाकी है
मुंबई की टीम पांचवे स्थान पर है. मुंबई की टीम ने इस सीजन में अभी कठिन मुकाबले जीते हैं. इनमें से चेन्नई पर जीत के अलावा हैदराबाद पर उसी के घर में जीत अहम है. मुंबई के खिलाड़ी, खासकर गेंदबाज बेहतरीन फॉर्म में है. शीर्ष क्रम के जूझने के बाद भी टीम ने 5 में से तीन ही मैच जीते हैं. लेकिन इतिहास गवाह है कि मुंबई की टीम देर से जागती है. मुंबई को रनरेट अभी +0.342 जो बुरा नहीं है.

यह भी पढ़ें: पंजाब की जीत में राहुल-मंयक की तूफानी पारी ऐसे पड़ी वार्नर पर भारी

दिल्ली के बल्लेबाजी मजबूत पर…
छठे स्थान पर दिल्ली की टीम को अभी तक मिलेजुले परिणाम मिले हैं छह में से वह केवल 3 मैच जीत सकी है. उसका नेट रन रेट +0.131 है. दिल्ली ने कोलकाता से एक टाई मैच छीना है, लेकिन हैदाराबाद के खिलाफ अपने ही घर में करारी हार ने उसे बड़ा झटका दिया है. दिल्ली की गेंदबाजी शानदार है और बल्लेबाजी में गहराई है लेकिन उसके बल्लेबाजों को थोड़ा बेहतर होने की जरूरत है.

फॉर्म में आई तो एकतरफा जीत हासिल करेगा राजस्थान
सातवें स्थान पर राजस्थान की टीम पांच में से केवल एक ही मैच जीत सकी है और उसका रनरेट भी -0.848 है. राजस्थान की टीम ऐसी टीम है जो इस प्वाइंट टेबल में उथल पुथल करने में सक्षम है हालांकि उसने अभी तक बढ़िया प्रदर्शन नहीं किया है, लेकिन अगर उसके खिलाड़ी फॉर्म में आ गए तो यह टीम एक तरफा जीत हासिल करेगी इसमें किसी को शक नहीं है.

बेंगलुरू सबसे पीछे लेकिन काफी कुछ अब भी मुमकिन
विराट कोहली की टीम बेंगलुरू की टीम अभी तक छह मैचों में से एक भी मैच नहीं जीत सकी है. उसका नेट रनरेट -1.453 है जो कि काफी कम हो गया. ऐसे में बेंगलुरू को शीर्ष चार टीमों में आने के लिए अच्छे अंतर से जीत के साथ दूसरी टीमों के गणित पर भी निर्भर होना पड़ेगा. अब बेंगलुरू के जरूरी है कि कम से कम एक ( या दो भी) टीम शीर्ष पर अपना स्थान कायम रखे और बेंगलुरू के अलावा बाकी सारी टीमों पर जीत हासिल करती रहे. मजेदार बात यह है कि बेंगलुरू के लिए अभी कुछ भी नामुमकिन नहीं है हालांकि उसके लिए प्वाइंट टेबल में टॉप पर आना बहुत ही मुश्किल है, लेकिन उसे इसकी जरूरत नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help