हर खेल में पुरुषों और महिलाओं की अलग प्रतियोगिताएं होती हैं. कुछ खेलों में मिक्स इवेंट भी होते हैं जहां पुरुष और महिला खिलाड़ी एक साथ भाग लेते हैं. क्रिकेट में भी पुरुष और महिला खिलाड़ियों के एक मैच में खेलने की बातें सामने आने लगी हैं, लेकिन अभी तक पुरुष क्रिकेट में महिला अंपायर का नहीं दिखती थीं. अब ऐसा नहीं होगा. आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिविजन-2 के फाइनल मैच में इतिहास बन गया जब इसकी अंपयारिंग एक महिला ने की. इस ऑस्ट्रेलियाई को मिला यह मौका आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिविजन-2 के दौरान हैं. नामीबिया और ओमान के बीच खेले जा रहे फाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसाक पुरुष वनडे मैच में अम्पायरिंग करने वाली पहली महिला बन गई 31 वर्षीय क्लेयर महिलाओं के 15 वनडे मैच में अम्पायरिंग कर चुकी हैं. 2016 में ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम के बीच हुए वनडे मैच में उन्होंने पहली बार अंपायरिंग की थी. उन्होंने पिछले साल इंग्लैंड और भारत के बीच खेले गए महिला टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भी अम्पायरिंग की थी. यह भी पढ़ें: IPL Memes: धोनी बोले रैना से, बेटा तुमसे ना हो पाएगा, ‘मुंबई बनी चेन्नई का बाप’ यह कहा क्लेयर ने क्लेयर ने कहा, “मैं पुरुषों के वनडे मैच में अम्पायरिंग करने वाली पहली महिला बनकर बहुत उत्साहित महसूस कर रही हूं, एक अंम्पायर के रूप में मैंने बहुत लंबा सफर तय किया है. महिला अम्पायरों को प्रमोट करना बहुत महत्वपूर्ण है और महिलाएं निश्चित रूप से अम्पायरिंग कर सकती हैं. बाधाओं को तोड़ते हुए जागरुकता फैलाने की आवश्यकता है ताकि अधिकतक महिलाएं इस भूमिका को निभा सके.” ICC ✔ @ICC Australia’s Claire Polosak will make history today at #WCL2! 685 8:43 AM – Apr 27, 2019 Twitter Ads info and privacy 54 people are talking about this ऑस्ट्रेलियाई घरेलू क्रिकेट में भी कर चुकीं है पुरुषों की अंपारिंग क्लेयर 2017 में महिला वनडे विश्व कप के 4 मुकाबलों में भी अम्पायरिंग की जिम्मेदारी निभा चुकी हैं. वह ऑस्ट्रेलिया के घरेलू क्रिकेट में पुरुषों के मैच में अम्पायरिंग करने वाली पहली महिला अम्पायर बनी थीं. पिछले साल दिसंबर में क्लेयर और दक्षिण ऑस्ट्रेलिया की एलोइस शेरीडेन ने महिला बिग बैश लीग में अम्पायरिंग की थी. यह पहला मौका था जब ऑस्ट्रेलिया में पेशेवर क्रिकेट में दोनों फील्ड अम्पायर महिलाएं थीं.

publiclive.co.in[Edited by Divya Sachan]
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस साल अर्जुन अवॉर्ड (Arjuna Award) के लिए चार किक्रेटरों के नाम की सिफारिश की है. इनमें मोहम्‍मद शमी, जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), रवींद्र जडेजा और पूनम यादव शामिल हैं. शमी, बुमराह और रवींद्र जडेजा पुरुष क्रिकेटर हैं और विश्व कप की टीम का हिस्सा हैं. पूनम यादव (Poonam Yadav) महिला क्रिकेटर हैं. अर्जुन अवॉर्ड हर साल बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों दिया जाता है. इसके लिए अलग-अलग खेलों के बोर्ड खिलाड़ियों के नाम खेल मंत्रालय को भेजते हैं. खेल मंत्रालय अवॉर्ड विजेताओं को चुनने के लिए समिति गठित करता है. यही समिति इन खिलाड़ियों के नामों पर अंतिम फैसला लेती है.

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर नियुक्‍त प्रशासकों की समिति (CoA) ने सबा करीम की मौजूदगी में इन क्रिकेटरों के नाम अर्जुन अवॉर्ड के लिए तय किए. पूर्व क्रिकेटर सबा करीम ने ही इन चारों के नामों का प्रस्‍ताव रखा. इन खिलाड़ियों ने पिछले एक साल में प्रभावशाली प्रदर्शन किया है.

जसप्रीत बुमराह इस समय वनडे के नंबर वन गेंदबाज हैं. वे तीनों फॉर्मेट(टेस्‍ट, वनडे और टी20) में टीम इंडिया के प्रमुख गेंदबाज हैं. अगले महीने से शुरू हो रहे वर्ल्‍ड कप में उन पर बड़ी जिम्‍मेदारी होगी. उन्हें मौजूदा समय का डेथ ओवर का दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज माना जा रहा है.

मोहम्‍मद शमी (Mohammed Shami) भी हाल के दिनों में बेहतरीन फॉर्म में हैं. उन्‍होंने 2018 में जब से टीम इंडिया में वापसी की है, तब से टेस्ट और वनडे दोनों फॉर्मेट में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं. शमी, बुमराह और भुवनेश्वर की तिकड़ी को इस समय दुनिया की खतरनाक तिकड़ी माना जा रहा है.

टीम इंडिया को संतुलन देते हैं जडेजा
ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) भारतीय टीम को संतुलन प्रदान करते हैं. वे वनडे और टेस्ट दोनों ही टीमों में फिट हैं. जडेजा टीम इंडिया के सर्वश्रेष्ठ फील्डर भी हैं. पिछले 6 महीनों में उन्‍होंने वनडे में शानदार प्रदर्शन किया है. इसी कारण उन्‍हें भी वर्ल्‍ड कप टीम में चुना गया है. जडेजा ने 2018-19 में छह टेस्ट और 15 वनडे मैच खेले हैं. उन्होंने टेस्ट में 27 विकेट लिए और 490 रन बनाए. इसी तरह वनडे में 19 विकेट लिए और 172 रन बनाए.

लेग स्पिनर पूनम ने 18 मैच में 30 विकेट झटके
पूनम यादव महिला क्रिकेट टीम की सदस्‍य हैं. 27 साल की इस फिरकी गेंदबाज ने साल 2018-19 में 18 वनडे मैच खेले हैं और इनमें 30 विकेट झटके हैं. वैसे उन्होंने कुल 41 वनडे, 54 टी20 और एक टेस्ट मैच खेला है. पूनम यादव लेग स्पिनर हैं. उन्होंने वनडे में 63, टी20 में 74 और टेस्ट मैच में तीन विकेट लिए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help