कल है चौथे चरण का मतदान, मैदान में हैं दिग्‍गज और सितारे, यहां जानें हर एक जरूरी बात

: Publiclive.co.in[Edited by Aadil khan]लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha elections 2019) के तहत चौथे चरण का मतदान कल यानी 29 अप्रैल को होने वाला है. इस दौरान नौ राज्यों की 71 संसदीय सीटों पर मतदान होगा. इसके लिए चुनाव प्रचार शनिवार को थम चुका है. इस चरण में कई दिग्‍गज नेताओं की किस्‍मत ईवीएम में कैद होगी. इस चरण में कुल 961 प्रत्‍याशियों की किस्मत का फैसला होना है.

इन सीटों पर मतदान
चौथे चरण का चुनाव जिन सीटों पर होना है उनमें महाराष्ट्र की 17, ओडिशा की छह, झारखंड की तीन, मध्य प्रदेश की छह, पश्चिम बंगाल की आठ, उत्तर प्रदेश की 13, बिहार की पांच, राजस्थान की 13 और अनंतनाग निर्वाचन क्षेत्र का एक हिस्सा शामिल है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एवं कई केंद्रीय समेत अन्य नेताओं ने पिछले कुछ दिनों में विभिन्न निर्वाचन क्षेत्रों का दौरा कर अपनी-अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के लिए जम कर प्रचार किया.

बीजेपी की साख दांव पर
सत्तारूढ़ बीजेपी और उसके सहयोगियों के लिए इस चरण में चुनाव में बहुत कुछ दांव पर है क्योंकि 2014 में उसे इन 72 में से 56 सीटों पर जीत हासिल हुई थी और कांग्रेस महज दो सीट पर सिमट गई थी और अन्य सीटों पर तृणमूल कांग्रेस एवं बीजू जनता दल जैसी पार्टियों के खाते में गई थी.

दिग्‍गज हैं मैदान में
चौथे चरण में बीजेपी के जो प्रत्‍याशी मैदान में हैं उनमें प्रमुख रूप से केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, सुभाष भामरे, एसएस अहलूवालिया और बाबुल सुप्रियो शामिल हैं. वहीं कांग्रेस के प्रमुख प्रत्‍याशियों में पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, श्रीप्रकाश जायसवाल और अधीर रंजन चौधरी मैदान में हैं.

महाराष्‍ट्र की 17 सीटों पर चुनाव
महाराष्ट्र की 17 सीटों के लिए 323 उम्मीदवार मैदान में हैं. यहां मतदान 29 अप्रैल को सुबह सात बजे से छह बजे के बीच होगा. दौड़ में शामिल मुख्य प्रत्याशियों में केंद्रीय मंत्री भाजपा के सुभाष भामरे (धूले), कांग्रेस की उर्मिला मातोंडकर (मुंबई उत्तर), प्रिया दत्त (मुंबई उत्तर मध्य) और मिलिंद देवड़ा (मुंबई दक्षिण) और मावल से राकांपा प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजीत पवार के बेटे पार्थ पवार शामिल हैं. लोकसभा में महाराष्ट्र से 48 सांसद आते हैं जो उत्तर प्रदेश (80) के बाद सबसे ज्यादा हैं.

ओडिशा में विधानसभा चुनाव भी
ओडिशा के मयूरभंज, बालेश्वर, जाजपुर, केंद्रपाड़ा एवं जगतसिंहपुर लोकसभा सीटों और इन छह संसदीय क्षेत्रों के तहत आने वाली विधानसभा की 41 सीटों पर सोमवार को चुनाव होने हैं. पत्कुरा को छोड़ ओडिशा में यह अंतिम चरण का मतदान होगा. बीजद उम्मीदवार के निधन के बाद इस सीट पर चुनाव 19 मई को कराए जाएंगे.

चौथे चरण के चुनाव में 388 उम्मीदवारों (लोकसभा के लिए 51 और 41 विधानसभा सीटों पर 336 प्रत्याशियों) की राजनीतिक किस्मत का फैसला होगा. प्रमुख चेहरों में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा (केंद्रपाड़ा लोकसभा सीट) और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष निरंजन पटनायक शामिल हैं. राज्य में लोकसभा की 21 और विधानसभा की 147 सीटें हैं.

मध्‍य प्रदेश में CM कमलनाथ अपने बेटे संग हैं मैदान में
मध्य प्रदेश में लोकसभा की छह सीटों और छिंदवाड़ा विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए भी प्रचार शनिवार शाम थम गया. छिंदवाड़ा विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री कमलनाथ मैदान में हैं. लोकसभा की सभी छह सीटों सीधी, शहडोल, जबलपुर, मांडला, बालाघाट और छिंदवाड़ा पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है. कमलनाथ के बेटे नकुल नाथ छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं.

बीजेपी ने 2014 में ‘मोदी लहर’ का लाभ लेते हुए छह में से पांच सीटों पर जीत हासिल की थी लेकिन कमलनाथ के गढ़ छिंदवाड़ा में नहीं जीत पाए थे. नवंबर 2018 के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की जीत के बाद मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद कमलनाथ के लिए छह महीने के भीतर राज्य विधानसभा में चुना जाना जरूरी है. कांग्रेस के विधायक दीपक सक्सेना ने उनके लिए यह सीट छोड़ी. पहले चरण के चुनाव के लिए 108 उम्मीदवार मैदान में हैं. यहां सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होंगे जबकि नक्सल प्रभावित क्षेत्र में सुबह सात बजे से चार बजे तक वोट डाले जाएंगे.

झारखंड की तीन सीटों पर मतदान
झारखंड में 29 अप्रैल को होने वाले लोकसभा की तीन सीटों पर चुनाव के लिए प्रचार शनिवार को खत्म हो गया. बीजेपी शासित राज्य में सोमवार को पहले चरण के मतदान होंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह समेत भाजपा के शीर्ष नेताओं ने झारखंड में रैली कर पार्टी को फिर से जिताने की अपील की जबकि विपक्षी पार्टियों के राष्ट्रीय स्तर का किसी प्रमुख नेता ने इन तीन सीटों – लोहरदगा (आरक्षित), चतरा और पलामू (आरक्षित) में प्रचार नहीं किया.

पश्चिम बंगाल की 8 सीटों पर वोटिंग
पश्चिम बंगाल के आठ निर्वाचन क्षेत्रों में चौथे चरण के चुनाव के लिए विभिन्न राजनीतिक दलों का प्रचार शनिवार शाम को समाप्त हो गया. सोमवार को जिन सीटों पर चुनाव होने हैं उनमें ब्रह्मपुर, कृष्णानगर, रानाघाट, वर्द्धमान पूर्व, वर्द्घमान-दुर्गापुर, आसनसोल, बोलपुर और बीरभूम शामिल है. चुनाव आयोग ने बताया कि इन आठ सीटों से 68 उम्मीदवार मैदान में हैं. चार जिलों में फैली इन आठ सीटों पर तृणमूल कांग्रेस, भाजपा, कांग्रेस और वाम मोर्चे के बीच चतुष्कोणीय मुकाबला है. चुनाव आयोग ने बताया कि पहली बार सभी मतदान केंद्रों पर ईवीएम के साथ वीवीपैट भी इस्तेमाल होंगे.

यूपी की 13 सीटों पर बीजेपी और सपा-बसपा आमने-सामने
उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 13 सीटों के लिए चुनाव प्रचार शनिवार शाम को थम गया. ज्यादातर सीटों पर बीजेपी और सपा-बसपा के बीच सीधी टक्कर है. इन सीटों से कुल 152 उम्मीदवार मैदान में हैं. उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटें हैं और यहां सभी सात चरणों में चुनाव होने हैं.

बिहार में कन्‍हैया कुमार पर नजरें
बिहार में लोकसभा की पांच सीटों – बेगूसराय, मुंगेर, उजियारपुर, समस्तीपुर और दरभंगा के लिए चुनाव प्रचार शनिवार को समाप्त हो गया. इस चरण में सभी निगाहें बेगूसराय सीट पर है जहां लड़ाई दक्षिणपंथी और वामपंथी राजनीतिक विचारधारा के बीच है और भाकपा प्रत्याशी कन्हैया कुमार बीजेपी के फायरब्रांड नेता गिरिराज सिंह को चुनौती दे रहे हैं. साथ ही इस सीट पर राजद के तनवीर हसन भी प्रत्याशी हैं जिन्हें 2014 के लोकसभा चुनाव में दूसरा स्थान हासिल हुआ था.

कश्‍मीर में महबूबा मुफ्ती हैं मैदान में
अनंतनाग लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के तहत आने वाले कुलगाम जिले में चुनाव प्रचार शनिवार को थम गया. इस सीट पर चुनाव तीन चरण में होने हैं. अनंतनाग सीट से 18 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें पीडीपी अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्‍मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती भी शामिल हैं. कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर को उतारा है जबकि उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश हसनैन मसूदी नेशनल कॉन्फ्रेंस की टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.

राजस्‍थान में गहलोत और वसुंधरा के बेटे लड़ रहे चुनाव
वहीं राजस्थान में पहले चरण के मतदान के लिए भी चुनाव प्रचार शनिवार को शाम छह बजे समाप्त हो गया. यहां दो चरणों में चुनाव संपन्न होंगे. पहले चरण में 13 सीटों पर मतदान होंगे. राज्य में लोकसभा की कुल 25 सीटें हैं. इन 13 सीटों में दो सीटें सबसे ज्यादा चर्चा में हैं – जोधपुर एवं झालावाड़. जोधपुर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव मैदान में हैं जबकि झालावाड़ से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बेटे दुष्यंत सिंह चुनाव लड़ रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help