‘हुआ तो हुआ’ मात्र तीन शब्द नहीं…लेकिन जनता कह रही ‘अब बहुत हुआ’: PM मोदी

publiclive.co.in[Edited by DIVYA SACHAN]
रतलाम: कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा की 1984 के सिख दंगों पर कथित टिप्पणी ‘हुआ तो हुआ’ पर तीखा हमला बोलते हुए सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अपने सभी घोटालों, कारनामों पर देश की जनता के प्रति कांग्रेस का यही रवैया है. उन्होंने कहा ‘‘यह केवल तीन शब्द नहीं हैं बल्कि यह तो कांग्रेस का अहंकार है. यह कांग्रेस की विचारधारा है. लेकिन जनता अब इन महामिलावटी लोगों को कह रही है ‘‘अब बहुत हुआ’ …. ‘इनफ इज इनफ.’’

रतलाम-झाबुआ लोकसभा क्षेत्र में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे मोदी ने कहा कि बोफोर्स तोप घोटाला, पनडुब्बी घोटाला, हेलीकाप्टर घोटाला, कामनवेल्थ घोटाला, टू जी घोटाला, भोपाल जहरीली गैस कांड, जवानों को बुलेट प्रुफ जेकेट नहीं देने, आतंकवाद और नक्सलवाद में जवानों, लोगों की जान जाने जैसे सभी मामलों में कांग्रेस का एक ही जवाब होता है ‘‘हुआ तो हुआ.’’

रतलाम की रैली में बोले PM मोदी- वोट न डालकर आपने बहुत बड़ा पाप किया है दिग्गी राजा

उन्होंने कहा ‘‘हमारे संस्कार है कि हम मां भारती के वंदन से काम शुरु करते हैं लेकिन कांग्रेस को भारत माता की जय से दिक्कत है. संस्कारों का एक और उदाहरण है, कुछ दिन पहले यहां के एक सपूत धर्मेन्द्र सिंह ने आग से अपने युद्ध पोत को बचाते हुए सर्वोच्च बलिदान दे दिया. मैं उनको और उनके परिवार को नमन करता हूं.’’

कांग्रेस का अहंकार
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘लेकिन दूसरी तरफ कांग्रेस का नामदार परिवार है. ये लोग पिकनिक के लिये देश के युद्धपोत का इस्तेमाल करते हैं और सवाल उठने पर बेखौफ कहते हैं, ‘हुआ तो हुआ’. यह तीन शब्द नहीं हैं. यह कांग्रेस का अहंकार है. देश की जनता के प्रति उनका रवैया है.’’ उन्होंने कहा ‘‘ये महामिलावटी लोग कह रहे हैं ‘हुआ तो हुआ’ लेकिन देश कह रहा है कि ‘महामिलावटी लोगों – अब बहुत हुआ .’’

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर हिन्दू आतंकवाद का नया शिगूफ़ा गढ़ने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘हमारी महान परंपरा को बदनाम करने की कांग्रेस की इस साजिश के कारण आतंकवादी बचते रहे और निर्दोषों का खून बहता रहा. यही कारण है कि कांग्रेस आज आतंकवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा पर बात करने से डरती है.’’ उन्होंने कहा कि नामदारों की गलत नीतियों के कारण देश में आये दिन बम धमाके हुए और विस्फोट करने वालों के तार सीमा पार तक जाते थे लेकिन कांग्रेस केवल कहती रही ‘हुआ तो हुआ.’

प्रधानमंत्री मोदी ने मध्य प्रदेश में किसानों से फसल ऋण माफी का ‘झूठा वायदा’ करने के लिये भी कांग्रेस को आड़े हाथ लिया.

नामदार भाषण की शुरुआत ही गाली से करते हैं, देश गालीपंथी से चलेगा या राष्‍ट्रभक्ति से: PM मोदी

बिजली की आपूर्ति आधी हुई
उन्होंने कहा कि बिजली का बिल आधा करने को कहा गया था जबकि बिजली की आपूर्ति ही आधी हो गयी और किसानों के घर पुलिस पहुंच रही है. ऐसा क्यों हो रहा है ? इसका जवाब है तुगलक रोड घोटाला. केन्द्र सरकार ने गरीब, आदिवासी, बच्चों, महिलाओं के पोषण आहार के लिये जो पैसा दिल्ली से भेजा था वह इन्होंने लूट लिया.’’ प्रधानमंत्री ने केन्द्र सरकार द्वारा छोटे किसानों को 6,000 रुपये प्रतिवर्ष देने की योजना का जिक्र करते हुए कहा कि 23 मई को मतगणना के बाद केन्द्र में फिर से भाजपा की सरकार आयेगी तब पांच एकड़ की वर्तमान शर्त को हटा दिया जायेगा.

उन्होंने गरीब, छोटे किसानों, मजदूरों और दुकानदारों को 60 वर्ष के बाद पेंशन देने संबंधी योजना का भी जिक्र किया. साथ ही उन्होंने व्यापारी वर्ग के लिये राष्ट्रीय व्यापार आयोग बनाने की जानकारी देते हुए कहा कि इसके तहत व्यापारियों को 50 लाख रुपये के कर्ज देने की व्यवस्था की जायेगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने केन्द्र की पूर्ववर्ती अटल सरकार द्वारा आदिवासी कल्याण के लिये अलग से आदिवासी कल्याण मंत्रालय गठित किए जाने का जिक्र करते हुए कहा ‘‘आदिवासी वर्ग भगवान राम के वक्त से है लेकिन कांग्रेस वालों को यह पता नहीं था.’’ उन्होंने कहा कि जब तक मोदी (प्रधानमंत्री) है किसी भी आदिवासी का हक और जमीन को नहीं छीना जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help