ममता दीदी आप 23 तारीख की राह देखें, आपके दिन समाप्त होने वाले हैंः अमित शाह

publiclive.co.in[Edited by DIVYA SACHAN]
नई दिल्ली/कोलकाता: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के सातवें और अंतिम चरण में पश्चिम बंगाल की 9 सीटों पर मतदान होना है. अभी तक राज्य में हुए 6 चरणों के मतदान के दौरान बीजेपी और राज्य की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के बीच लगातार हिंसक संघर्ष देखने को मिला है. मंगलवार को कोलकाता में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान भी टीएमसी और बीजेपी समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई. बीजेपी का कहना है कि इस हिंसा में पार्टी के 100 से ज्यादा कार्यकर्ता घायल हुए हैं. अमित शाह ने इस मुद्दे पर आज ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला किया. उन्होंने हिंसा करने वालों पर कार्रवाई नहीं करने पर चुनाव आयोग पर भी निशाना साधा. बीजेपी का आरोप है कि यह हमला टीएमसी की छात्र ईकाई ने करवाया है.

अमित शाह की प्रेस कॉन्फ्रेंस की मुख्य बातें

– हम 300 से ज्यादा सीटें जीत रहे हैं. पश्चिम बंगाल में हम 23 से ज्यादा सीटें जीत रहे हैं ः अमित शाह

– ममता दीदी आपकी एफआईआर दर्ज की है, आपकी एफआईआर से हम नहीं डरते, मेरे 60 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की जान आपके गुंडों ने ले ली है, हम डरते नहींः ममता

– ममता दीदी जितना भी हिंसा का कीचड़ फैलाओगी कमल उतना ही खिलेगाः अमित शाह

– पर्यवेक्षकों ने कहा है कि निष्पक्ष चुनाव के लिए गुंडों को पकड़ना जरूरी है, लेकिन बंगाल में ऐसा नहीं हो रहा हैः अमित शाह

– सिर्फ बंगाल में 60 कार्यकर्ताओं की हत्या हुई हैः अमित शाह

– अगर इसी प्रकार से बंगाल के अंदर चुनाव कराना है तो निष्पक्षता पर सवाल उठाता हैः अमित शाह

– पश्चिम बंगाल में चुनाव आयोग मूकदर्शक बना हुआ है. चुनाव आयोग बंगाल के अंदर एक भी जगह हिस्ट्री शीटरों की गिरफ्तारी को लेकर चुप है : अमित शाह

– मैं मानता हूं कि वोट बैंक की राजनीति करने के लिए इतने प्रतिष्ठित व्यक्ति के पुतले को तोड़ना बताता है कि टीएमसी की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है : अमित शाह

– कॉलेज के कमरे किसने खोले? कॉलेज पर किसका प्रशासनिक कब्जा है? : अमित शाह

– ममता दीदी के कार्यकर्ताओं ने तोड़ी ईश्वरचंद्र विद्यासागर जी की प्रतिमा : अमित शाह

– बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में हिंसा का कारण टीएमसी है. क्योंकि बीजेपी हिंसा करती तो हर राज्य में होती. : अमित शाह

– केवल बंगाल में नहीं होती. टीएमसी केवल 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. बीजेपी पूरे देश में चुनाव लड़ रही है. : अमित शाह

– कल बीजेपी का रोड शो था. रोड शो से तीन घंटे पहले ही हमारे पोस्टर बैनर को हटाने का काम किया गया है. पुलिस मूक दर्शक बनकर खड़ी रही. : अमित शाह

– रोड शो के जरिए पीएम मोदी के पोस्टर फाड़े गए…: अमित शाह

बता दें कि बुधवार को कोलकाता पुलिस ने अमित शाह के खिलाफ 2 एफआईआर दर्ज की है. जोड़ासांको और एमहर्स्ट स्ट्रीट थाने में यह एफआईआर दर्ज की गई है. ऐसा बताया जा रहा है कि यह दोनों एफाआईआर टीएमसी की छात्र ईकाई की शिकायत पर दर्ज की गई है.

वहीं टीएमसी का आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने समाजसेवी और दार्शनिक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ दी है. टीएमसी ने आज इसकी शिकायत करने के लिए चुनाव आयोग से मुलाकात का समय मांगा है. वहीं बीजेपी ने अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा के खिलाफ आज दिल्ली के जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह इस मुद्दे पर सुबह 11 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. खबर यह भी है कि सीएम ममता बनर्जी आज कोलकाता में रैली निकलेंगी.

पश्चिम बंगाल में बीजेपी नेता रूपा गांगुली ने कहा है कि विद्यासागर कॉलेज के अंदर से रोड शो पर ईंट किसने फेंकी?

टीएमएसी ने शाह के रोडशो में हिंसा के बाद चुनाव आयोग से मुलाकात का समय मांगा
तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने बीजेपी एवं उसके कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़पों के दौरान बांग्ला लेखक एवं दार्शनिक ईश्वरचंद्र्र विद्यासागर की प्रतिमा गिराने के मुद्दे पर चुनाव आयोग से मुलाकात का समय मांगा है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के विशाल रोड शो के दौरान पार्टी एवं तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के बीच कोलकाता की सड़कों पर जबर्दस्त झड़प हो गई थी. हालांकि शाह को किसी तरह की चोट नहीं आई और पुलिस उन्हें सुरक्षित स्थान तक ले गई.

टीएमसी ने ट्वीट किया, “डेरेक ओब्रायन, सुखेंदु शेखर राय, मनीष गुप्ता, नदीमुल हक वाली तृणमूल संसदीय टीम कोलकाता में शाह के रोड शो के बाद बंगाल की संपदा पर हुए हमले को लेकर चुनाव आयोग से मुलाकात करना चाहती है. बीजेपी के बाहरी गुंडों ने आगजनी की और विद्यासागर की आवक्ष प्रतिमा को तोड़ दिया.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help