राजस्थान: प्रचंड गर्मी से बिजली विभाग भी बेहाल, शहरों में बढ़ी लोड शेडिंग

Publiclive.co.in[Edited by DIVYA SACHAN]
पूरे प्रदेश में इन दिनों गर्मी अपनी चरम सीमा पर है, इस भरपूर गर्मी में बिजती की आंख मिचौली कोढ़ में खाज का काम रही है. हालत यह है की बिजली विभाग भी हांफने लग गया है. सुबह होते ही गर्मी के तीखे तेवरों से दिन की शुरुआत होती है. वहीं दिनभर रहने वाली भरपूर गर्मी में बिजली कट ने आमजन की समस्याओं को बढ़ा दिया है.

पूरे शहर में लोगों को दिनभर बिजली की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. इतना ही नही दिन भर गर्मी में निकालने के बाद लोगों की रात का आराम से सोने की तमन्ना भी बिजली चले जाने के कारण पूरी नहीं हो रही है. रात में 10 बजे बिजली ट्रांसफॉर्मर से फ्यूज उडने का शुरु हुआ सिलसिला रात्रि के लगभग ढा़ई बजे तक अनवरत चलता है. ग्रामीण क्षेत्रों में हालात शहरी क्षेत्र से भी बदतर है.

गर्मी में लोड बढ़ने का कारण ऐसी भी है. बाजार में इन दिनों ऐसी की बिक्री जोरो पर हैं. एक दुकानदार ने बताया कि वर्तमान समय में जो नई तकनीक के ऐसी आ रहे हैं वह कूलर के बराबर ही बिजली खपत करते हैं ऐसे में लोग ऐसी को ही पसंद कर रहे हैं.

वहीं बिजली विभाग का कहना है कि वर्तमान समय में हर घर में कूलर की जगह ऐसी ने ले ली है और ऊपर से तेज गर्मी जिससे भारी भरकम लोड हो जाता है और फ्यूज उड़ने शुरू हो जाते हैं. उन्होंने कहा कि तेज गर्मी में पहले ही ट्रांसफार्मर की कार्यक्षमता कम हो जाती है. ऊपर से भारी लोड बड़ी परेशानी का सबब बनता है. बिजली विभाग के कर्मचारियों ने बताया कि उपभोग के अनुपात में ट्रांसफार्मर कम पावर के लगे हुए है, जिस कारण फ्यूज उडने के साथ कई स्थानों पर रात्रि के समय तारे तक टूट जाती है. उन्होने बताया कि रात के समय बिजली की खपत दिन की अपेक्षा कहीं अधिक हो जाती है.

हालांकि बिजली विभाग का कहना है कि तापमान का नीचे आने से ही इस समस्या का समाधान हो सकता है लेकिन फिर भी विभाग की कोशिश है कि चौबीस घटने उपभक्ताओं को बिजली सप्लाई मिले. उन्होंने कहा कि रात के समय भी फॉल्ट दूर करने की कोशिश की जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help