अमरनाथ यात्रा पर आतंक के हैं 6 खतरे, फूलप्रूफ सुरक्षा के लिए ये हैं इंतजाम

publiclive.news.in[Edited by Arti singh]
एक जुलाई से जम्मू कश्मीर में शूरू हो रही अमरनाथ यात्रा (Amarnath yatra 2019) पर आतंकी ख़तरा लगातार बना हुआ है. सुरक्षा एजेंसीज़ की रिपोर्ट के मुताबिक आतंकी ग्रुप अमरनाथ यात्रा पर हमले की साजिश रच सकते हैं. ऐसे में यात्रा की फूलप्रूफ सुरक्षा के लिए बड़े स्तर पर तैयारियां शुरू की जा चुकी है.
अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा में लगी जम्मू कश्मीर पुलिस, सेना और सभी अर्धसैनिक बलों से कहा गया है कि वह हर ख़तरे को नाकाम करने के लिए पूरी तरह मुस्तैद रहें.
जानकारी के मुताबिक यात्रा में इस्तेमाल यात्रियों और सुरक्षा बलों की गाड़ियों पर RFID टैग के साथ पहली बार हर श्रद्धालुओं को खास तरीके का बार कोड दिया जायेगा, जिससे उनके लोकेशन के बारे में सही जानकारी मिल सके. यही नहीं, पहली बार यात्रियों के लिए जिन कैंप में ठहरने के इंतज़ाम किये गए हैं. उसमे भी बार कोड रीडर लगाये जा रहे हैं, जिससे कैंप में वही यात्री आ सके जिसको बार कोड दिया गया है.

आइये हम आपको बताते है कि अमरनाथ यात्रा पर क्या हैं 6 खतरे-:

1. ग्रेनेड के जरिये यात्रियों को आतंकी बना सकते है निशाना.

2. यात्रियों के कैंप पर आतंकी हमले की साजिश.

3. अमरनाथ यात्रियों और सुरक्षा बलों पर सुसाइड अटैक.

4. यात्रा रूट को आईईडी धमाके के जरिये निशाना.

5. यात्रियों का अपरहण.

6. सेना की वर्दी पहन कर हमला

अमरनाथ यात्रा पर जहां आतंकी हमले का खतरा बना हुआ है, वहीँ सुरक्षा एजेंसीज़ की रिपोर्ट के मुताबिक कश्मीर घाटी में करीब 290 आतंकी मौजूद हैं, जिसका इस्तेमाल अमरनाथ यात्रा पर हमले के लिए किया जा सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक इनमें 34 पाकिस्तानी आतंकी हैं जो आईएसआई के इशारे पर सुरक्षा बलों को निशाना बना सकते हैं.

आइये हम आपको बताते है कि घाटी में मौजूद आतंकी ग्रुप्स के बारे में बताते हैं. कश्मीर में 290 आतंकियों के होने की जानकारी है, जिसमे सबसे ज्यादा लश्कर के आतंकी हैं.

1. लश्कर ए तोयबा के कुल 130 आतंकी कश्मीर में जिसमें 79 पाकिस्तानी आतंकी हैं और बाकी 51 स्थानीय हैं.

2. हिजबुल मुजाहीदीन के कुल 103 आतंकी जिसमे 7 पाकिस्तानी आतंकी हैं और बाकि 110 लोकल हैं.

3. जैश ए मोहम्मद के कुल 34 आतंकी जिसमें 21 पाकिस्तानी आतंकी हैं और बाकि 13 लोकल हैं.

4. ISJK से जुड़े 2 आतंकियों के मौजूद होने के ख़बर

5. अल बदर से जुड़े 5 आतंकियों के होने की ख़बर

6. अंसार गज़वत उल हिन्द के कुल 3 आतंकियों के होने की खबर

इस साल जनवरी से अब तक कुल 117 आतंकी मारे गए
कश्मीर घाटी में आतंकियों के खिलाफ जारी करवाई में इस साल अब तक 117 आतंकी मारे गए हैं. वहीं अलग-अलग आतंकी हमले में 74 जवान अब तक शहीद हो
चुके हैं, जिसमे पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुआ आतंकी हमला भी शामिल है. पुलवामा हमले में कुल 40 जवान शहीद हुए थे, जिसके बाद वायु सेना ने
बालाकोट के जैश कैंप पर सर्जिकल स्ट्राइक कर हमले का बदला लिया था. गृह मंत्रालय की 18 जून तक की रिपोर्ट के मुताबिक मारे गए आतंकियों में जैश के आतंकी सबसे ज्यादा हैं. रिपोर्ट के मुताबिक इस साल कुल 36 आतंकियों को अब तक मार गिराया जा चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help