प्रिंसिपल दंपति ने बेरहमी से की दो बेटियों की हत्या

तिरुपति: आंध्र प्रदेश के चित्तूर में चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक प्रिंसिपल दंपति ने अंधविश्वास के चक्कर में अपनी ही बेटियों को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस का कहना है कि आरोपी मां ने अपनी दोनों बेटियों पर डंबल से हमला कर उनकी जान ले ली. आरोपियों की पहचान पद्मजा और पुरुषोत्तम नायडू के रूप में हुई. मृतकों की पहचान 27 साल की अलेख्या और 22 साल की साई दिव्या के रूप में की गई है.

पढ़े लिखे होने के बावजूद अंधविश्वास के चक्कर में पड़े

मामला आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के मदनापल्ले कस्बे का है. पड़ोस में रहने वाले लोगों का कहना है कि इतने पढ़े-लिखे होने के बावजूद प्रिसिंपल दंपति अंधविश्वास के चक्कर में पड़ गए. पद्मजा IIT गोल्ड मेडलिस्ट हैं और मदनपल्ली इलाके में आईआईटी कोचिंग सेंटर चला रही हैं. जबकि पुरुषोत्तम नायडू सरकारी कॉलेज के प्रिंसिपल हैं.

‘सतयुग आएगा तो जी उठेंगी’

पुलिस ने बताया कि ‘जब आरोपियों को गिरफ्तार किया गया, तब इस जघन्य अपराध के लिए उनके चेहरे पर बिल्कुल भी पछतावा नहीं था. जब उनसे हत्या का कारण पूछा गया तो उन्होंने बताया कि कलयुग खत्म हो रहा है और सोमवार को सतयुग शुरू हो रहा है तो उनकी दोनों बेटियां सूरज उगने के साथ ही जीवित हो उठेंगीं.’

पुलिस इस एंगल की भी कर रही जांच

पुलिस ने आरोपी दंपति को हिरासत में लेकर मृतकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. इसके साथ ही पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इस मामले में किसी तीसरे पक्ष की संलिप्तता तो नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help