कंटेनर से आ रही थी अजीब आवाजें…डरते हुए जब खोला तब उड़ गए होश  Public Live

0
27

कंटेनर से आ रही थी अजीब आवाजें…डरते हुए जब खोला तब उड़ गए होश 

PublicLive.co.in

वाशिंगटन । कई बार लोगों की छोटी सी लापरवाही किसी की जान खतरे में डाल सकती है। इसके बाद पछतावे के सिवा कुछ नहीं रह जाता है। कुछ ऐसा ही अमेरिका के फ्लोरिडा में देखने को मिला। दरअसल एक कंटेनर से अजीब आवाजें आ रही थीं। किसी को भनक नहीं थी कि उसमें आखिर क्या है। लेकिन जब कंटेनर को खोला गया तब किसी को भी अपनी आंखों पर यकीन नहीं हुआ।  इसके भीतर एक महिला मौजूद थी। जो कि एक सप्ताह से उसमें फंसी हुई थी। महिला करीब एक हफ्ते पहले ही लापता हुई थी।  

रिपोर्ट के मुताबिक, फ्लोरिडा में महिला कंटेनर में मिली है। पुलिस ने बताया कि 52 साल की मार्लेनी लोपेज को आखिरी बार सोमवार को उनके घर पर देखा गया था। वे अपने बेटे को लेने घर से निकली थीं। लेकिन फिर नहीं लौटीं। उनके साथ काम करने वाले एक शख्स ने पुलिस को मामले की जानकारी दी। जांचकर्ताओं ने परिवार से पूछताछ की, आसपास की लोकेशन चेक कीं और लापता होने के पोस्टर लगा दिए। 

तभी उन्हें पता चला कि एक महिला शिपिंग कंटेनर में कैद मिली है। लोपेज कंटेनर के दरवाजे को पीट रही थीं। किसी ने उनकी आवाज सुनी और वहां जाकर देखा। लोपेज ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि कंटेनर में कैसे बंद हुईं। वहां किन परिस्थितियों में यहां फंसी, इसका पता लगाने के लिए जांच की जा रही है। इसके पहले भी अमेरिका से ऐसा ही एक मामला सामने आया था। जिसमें कंटेनर के भीतर एक कुत्ता फंसा हुआ था। वहां एक हफ्ते से भूखा प्यासा था। उस देखकर अधिकारियों का दिल पसीज गया। 

Previous articleमीटिंग के लिए भारत आया अमेरिकी बिजनेसमैन फाइव स्टार होटल में मृत मिला  Public Live
Next article ब्लैक स्पॉट घोषित होने से पहले होगा सड़कों का सुधार Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।