केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ आप का प्रदर्शन, बताया लोकतंत्र का काला दिन Public Live

0
28

केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ आप का प्रदर्शन, बताया लोकतंत्र का काला दिन

PublicLive.co.in

 भोपाल ।   दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में शुक्रवार को आम आदमी पार्टी (आप) ने मध्य प्रदेश के सभी जिलों समेत भोपाल में भी भाजपा प्रदेश कार्यालय के सामने प्रर्दशन किया। इस दौरान आप कार्यकर्ताओं ने मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आप प्रवक्ता रमाकांत पटेल ने बताया कि केंद्र में बैठी मोदी सरकार लगातार विपक्ष पर हमला कर उसे खत्म करने में लगी हुई है। पहले झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बिना सबूतों के गिरफ्तार कर लिया गया। इससे पहले आम आदमी पार्टी के ही दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, राज्यसभा सांसद संजय सिंह, स्वास्थ्यमंत्री सतेंद्र जैन, और विजय नायर को केंद्र में बैठी मोदी सरकार फर्जी शराब नीति में गिरफ्तार कर चुकी है।

उन्होंने कहा कि केंद्र की सत्ता पर काबिज मोदी सरकार को इंडिया गठबंधन के बनते ही अपनी हार नजर आ रही हैं। दिल्ली के फर्जी शराब नीति घोटाले में ईडी और सीबीआई दो साल से हजारों जांच के बाद आज तक भ्रष्टाचार के एक ढेले भर का कोई एक सबूत नहीं दे पाई। यह केस एक दम निराधार है केंद्र की मोदी सरकार द्वारा आम आदमी पार्टी की स्वच्छ ईमानदार छवि को धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं, भोपाल जिला अध्यक्ष हरीश पाठक ने कहा नरेंद्र मोदी केजरीवाल से डरते हैं, इसलिए लगातार केजरीवाल सरकार पर हमले किए जा रहे हैं। भाजपा की एजेंसी ने अनैतिक रूप से अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया है। 

Previous articleभेल आर्टिजन की सड़क हादसे मे मौत के मामले में कोर्ट ने दिये 82 लाख का मुआवजा देने का आदेश Public Live
Next articleपीएमटी परीक्षा 2009 के फर्जी डॉक्टर को 7 साल की जेल Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।