कोरबा में रेत माफिया के हौंसले बुलंद, रेत के लालच में खोद डालीं 40 कब्रें… 

0
17


छत्तीसगढ़ के कोरबा में अवैध रेत खनन कर रहे माफिया लाशों को भी नहीं छोड़ रहे हैं। उनकी JCB शवों पर भी चलने लगी है। हालात यहां तक हो गए हैं कि सीतामढ़ी रेत घाट से 40 कब्रें गायब हैं। कई कब्रें जर्जर हो गईं हैं और गिरने की स्थिति में हैं। आरोप है कि खनन विभाग और पुलिस को सब पता है, इसके बावजूद उन्होंने आंख बंद कर रखी है। तस्वीरें उनकी अमानवीयता की कहानी को बयान कर रही हैं। 

दरअसल, जब लोग अपने परिजनों की कब्र पर पहुंचे तो हैरान रह गए। सीतामढ़ी घाट किनारे कई लोगों के परिजनों की कब्रें जर्जर हो चुकी थीं। कई कब्रों का तो पता ही नहीं था। धीरे-धीरे बात फैली तो अन्य लोग भी अपने परिजनों की कब्र देखने के लिए पहुंचे। पता चला कि घाट से 30 से 40 कब्रें गायब हैं। कई कब्रें रेत के टीले पर लटक रही थीं, तो कई से शव तक बाहर आ गए थे। लोगों ने देखा कि घाट पर अवैध रूप से JCB लगाकार रेत खनन किया जा रहा है। 

रेत घाट पर खनन और अपने परिजनों की कब्रों की हालत देखकर लोग आक्रोशित हो गए। सूचना मिलने पर वार्ड पार्षद भी पहुंच गए। लोगों ने विरोध शुरू किया तो रेत तस्कर ट्रैक्टर लेकर भाग निकले। इसके बाद सभी लोग कोतवाली पहुंचे और शिकायत देकर मामला दर्ज कराया। लोगों का कहना है कि रेत माफिया के हौसले इतने बुलंद हैं कि उन्होंने घाट का गेट तक तोड़ दिया है। नदी से रेत चोरी करते-करते किनारे घाट तक आ गए हैं। उनके पूर्वजों की कब्र तक नहीं छोड़ रहे। 






Read this news in English visit IndiaFastestNews.in