खजुराहो से अभिषेक बच्चन को उतार सकती है सपा Public Live

0
23

खजुराहो से अभिषेक बच्चन को उतार सकती है सपा

PublicLive.co.in

भोपाल। मध्यप्रदेश की खजुराहो लोकसभा सीट इन दिनों काफी सुर्खियों में बनी हुई है। इसकी मुख्य वजह यहां से समाजवादी पार्टी-इंडिया गठबंधन के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी, जिसमें किसी बड़े अभिनेता को सपा अपना चेहरा बन सकती है।

जानकारी के मुताबिक, खजुराहो लोकसभा सीट पिछले दो दशक से भाजपा के कब्जे वाली सीटों में गिनी जाती है। यहां से फिलहाल प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा सांसद हैं और भाजपा ने उन्हें दोबारा टिकट देकर रिपीट किया है। हालांकि, समाजवादी पार्टी ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं। लेकिन सोशल मीडिया में सपा प्रमुख अखिलेश यादव और डिंपल यादव के साथ जूनियर बच्चन उर्फ अभिषेक बच्चन की फोटो वायरल हो रही है, जिससे यह कयास लगाया जा रहा है कि वो खजुराहो से भाजपा के खिलाफ बड़े चेहरे हो सकते हैं। यदि ऐसा हुआ तो कहीं न कहीं सांसद वीडी शर्मा को कड़ी चुनौती मिल सकती है।

आपको बता दें, खजुराहो लोकसभा सीट में 20 लाख से अधिक मतदाता हैं। जो तीन जिले की आठ विधानसभाओं में निवासरत हैं। इसमें कटनी, पन्ना और छतरपुर शामिल है। लेकिन इन सबमें महत्वपूर्ण भूमिका कटनी निभाता है। चूंकि कटनी जिले में चार विधानसभा सीट है, जिसकी बड़वारा सीट शहडोल लोकसभा में आती है तो मुड़वारा, बहोरीबंद और विजयराघवगढ़ विधानसभाएं खजुराहो लोकसभा में शामिल हैं। जहां इस बार सात लाख 44 हजार 281 मतदाता अपना बहुमूल्य वोट देकर सांसद चुनेंगे।

बात अगर 2019 लोकसभा चुनाव की करें तो यहां से वीडी शर्मा भाजपा से तो कांग्रेस कविता सिंह चुनाव लड़ी थीं। वहीं, वीर पटेल समाजवादी पार्टी के चेहरे के रूप दिखाई दिए थे। हालांकि, जनता ने कविता सिंह को तीन लाख 81 हजार वोट दिए थे तो वीर सिंह को महज 40 हजार 996 वोट पाकर संतुष्ट होना पड़ा था। वहीं, वीडी शर्मा आठ लाख 11 हजार से अधिक वोट मिले, जो चार लाख से भी ज्यादा वोट से जीत दर्ज कराई थी। हालांकि, इस बार का चुनावी गणित अलग है। एक तरफ वीडी शर्मा को न सिर्फ मोदी के चहेरे का फायदा मिलेगा तो वहीं सपा प्रत्याशी अगर अभिषेक बच्चन होते हैं तो न सिर्फ अखिलेश यादव, बल्कि राहुल गांधी और इंडिया गठबंधन के साथ बच्चन परिवार मिलकर चुनाव लड़ेगा।

ऐसे में यह कहा जा सकता है कि इस बार का खजुराहो लोकसभा चुनाव काफी दिलचस्प होगा। वहीं, जिला प्रशासन ने आदर्श आचार संहिता लागू करते हुए धारा-144 भी लगा दी है। फिलहाल, चुनावी तैयारी की जानकारी देते हुए जिला उप निर्वाचन अधिकारी साधना परस्ते ने बताया कि खजुराहो लोकसभा में इस बार 8,468 नए मतदाता जोड़े गए हैं, जिसे मिलाकर कुल 7,44,281 मतदाता हैं। इसमें महिला तीन लाख 80 हजार 566 तो पुरुष तीन लाख 63 हजार 702 और अन्य 13 वोटर्स शामिल हैं, जिनके लिए एक नया मतदान केंद्र शामिल करते हुए कुल 869 मतदान केंद्र बनाए हुए हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी अवि प्रसाद ने बताया कि लोकसभा चुनाव में राजनैतिक तौर से पारदर्शिता बनाए रखने के लिए 36 लोगों की उडऩदस्ता टीम बनाई है। इसके साथ ही 13 निगरानी समिति टीम  और आठ वीडियो सर्विलेंस टीम गठित की है।

Previous articleरफा में सैन्य कार्रवाई करने की तैयारी में इस्राइल, अमेरिका चिंतित Public Live
Next articleपतंजलि ने अवमानना नोटिस का नहीं दिया जवाब,  सुप्रीम कोर्ट का सख्त रूख Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।