ग्लोबल स्किल पार्क का निर्माण तेजी से पूरा करें: मुख्यमंत्री चौहान

0
19


भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ग्लोबल स्किल पार्क का निर्माण कार्य तेजी से पूरा कराएँ। इसका कार्य सातों दिन 24 घंटे चले। जून 2023 तक पार्क का निर्माण कार्य पूरा होना चाहिए। मुख्यमंत्री चौहान ने निर्माणाधीन स्किल पार्क के चल रहे कार्य पर संतोष व्यक्त किया। मुख्यमंत्री चौहान ने निरीक्षण के दौरान उपस्थित तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया और उनकी टीम को बधाई दी। मुख्यमंत्री चौहान गोविंदपुरा में निर्माणाधीन संत शिरोमणि रविदास ग्लोबल स्किल पार्क की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्माणाधीन स्किल पार्क का निरीक्षण भी किया। मुख्यमंत्री चौहान ने तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार विभाग की समीक्षा भी की।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हर विकासखण्ड में एक आईटीआई होना चाहिए। प्रदेश के जिन 21 विकासखंडों में आईटीआई भवन नहीं हैं, उनकी स्वीकृति की कार्यवाही शीघ्रता से की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि औद्योगिक घरानों से समन्वय कर आईटीआई में आवश्यकता अनुरूप कौशल विकास का प्रशिक्षण प्रदान किया जाए।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश के युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए अधिकाधिक संख्या में प्लेसमेंट हों। इंदौर में होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर समिट की प्रदर्शनी में ग्लोबल स्किल पार्क की सम्पूर्ण जानकारी प्रदर्शित की जाए। प्रदेश में निर्माणाधीन संभागीय आईटीआई भवन शीघ्रता से पूरा करें। निर्माण कार्य की गुणवत्ता बेहतर रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंगरौली में माइनिंग इंजीनियरिंग कॉलेज की स्वीकृति जारी हो चुकी है, कॉलेज के भूमि-पूजन की तैयारी की जाए। ग्रामीण इंजीनियरिंग योजना में गाँव के युवाओं को प्रशिक्षण दें। इससे गाँव के लोगों को गाँव का ही इंजीनियर मिल जाएगा। उन्होंने कहा कि सीएम राइज स्कूल और आईटीआई को जोड़ कर व्यवसायिक शिक्षा दी जाए। आईटीआई, इंजीनियरिंग एवं पॉलिटेक्निक महाविद्यालयों में रिक्त पदों की पूर्ति प्राथमिकता से की जाये।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि सिंगापुर के सहयोग से ड्रीम प्रोजेक्ट ग्लोबल स्किल पार्क का काम तेजी से हो रहा है। हमारा लक्ष्य इसे जून 2023 तक पूर्ण कर युवाओं को प्रवेश देने का है। इसमें प्रारंभ में ही 6 हजार युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज की आवश्यकताओं के अनुसार युवाओं को स्किल्ड करेंगे। इससे उनको तत्काल जॉब मिलेगा। उन्होंने कहा कि यह काम तेजी से प्रारंभ हुआ है। आज से 10-11 माह पहले जब मैंने यहाँ निरीक्षण किया था तब यहाँ कुछ भी नहीं था।

 






Read this news in English visit IndiaFastestNews.in