चारधाम यात्रा के श्रद्धालुओं को आईआरसीटीसी की सौगात, कम खर्च में स्‍पेशल टूर पैकेज 

0
2


नई दिल्‍ली । चारधाम यात्रा के श्रद्धालुओं के लिए इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्‍म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) एक बड़ी सौगात लेकर आया है।  बद्रीनाथ धाम की पवित्र यात्रा 8 मई से शुरू हो रही है, जबकि केदारनाथ धाम के कपाट आज से खुल गए हैं। अगर आप भी चारधाम यात्रा पर जाना चाहते हैं तो आपके लिए आईआरसीटीसी चार धाम यात्रा के लिए एक विशेष टूर पैकेज लेकर आया है। इस टूर पैकेज में श्रद्धालुओं को सभी महत्‍वपूर्ण तीर्थों के दर्शन करने का मौका मिलेगा। श्रद्धालुओं को एक तय रकम में इस यात्रा के दौरान रहने, खाने-पीने और ट्रैवल के लिए हवाई जहाज और गाड़ी की सुविधा भी मिलेगी।

11 रातों और 12 दिनों का यह टूर 10 जून 2022 को ओडिशा के भु‍वनेश्‍वर से शुरू होगा और 21 जून को समाप्‍त होगा। भुवनेश्‍वर से श्रद्धालुओं को हवाई जहाज से नई दिल्‍ली लाया जाएगा। इस यात्रा में भक्‍तों को केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के साथ ही गुप्तकाशी, बरकोट, हरिद्वार, सोनप्रयाग आदि खूबसूरत और धार्मिक स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे। इस टूर पैकेज का खर्च 60,000 रुपये से शुरू होगा। इसकी बुकिंग आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर की जा सकती है। आईआरसीटीसी के कार्यालयों में भी यह सुविधा उपलब्‍ध है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, इस पैकेज में यात्रियों को भुवनेश्‍वर से दिल्‍ली तक हवाई जहाज से लाया और वापस ले जाया जाएगा। श्रद्धालुओं को 11 रातों के लिए डीलक्‍स होटल या रिजॉर्ट में ठहराया जाएगा। दिल्‍ली एयरपोर्ट से यात्रियों को चार धाम के लिए एयर कंडीशन गाड़ी में ले जाया जाएगा। सभी जगहों की सैर के लिए गाड़ी आईआरसीटीसी उपलब्‍ध कराएगा। पूरे टूर के दौरान यात्रियों के नाश्‍ते और डिनर की व्‍यवस्‍था फ्री में की जाएगी। पूरे टूर पर आईआरसीटीसी टूर मैनेजर यात्रियों के साथ रहेगा। यात्रियों को पार्किंग चार्ज, टोल टैक्‍स और इस तरह का अन्‍य कोई खर्च नहीं देना होगा।

आईआरसीटीसी ने साफ किया है कि इस टूर पैकेज में या‍त्री अगर खच्‍चर की सवारी करते हैं, पालकी या हेल्‍लीकॉप्‍टर की सेवा लेते हैं, तो उसका खर्च उन्‍हें स्‍वयं वहन करना होगा। इसके अलावा लांड्री, टेलीफोन खर्च, मिनरल वाटर, कोल्‍ड ड्रिंक पर खर्च होने वाला पैसा भी यात्री को ही देना होगा। अगर यात्री रॉक क्‍लाइम्बिंग करते हैं या फिर पैराग्‍लाइडिंग करते हैं, तो इसके लिए भी उन्‍हें पैसे अपनी जेब से देने होंगे। स्‍मारकों, नेशनल पार्क, चि‍ड़ियाघर और बोट राइड्स आदि का खर्च भी यात्रियों को वहन करना होगा।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here