निजी कंपनी का इजिंनियर चुराता था ट्रेनों से कंबल, चादर, तौलिया Public Live

0
25

निजी कंपनी का इजिंनियर चुराता था ट्रेनों से कंबल, चादर, तौलिया

PublicLive.co.in

भोपाल। राजधानी के एयरपोर्ट रोड स्थित दाता कॉलोनी में रहने वाले निजी कंपनी के इंजीनियर को ट्रेनों से कंबल, चादर और तौलिया चुराने की आदत थी। अपनी आदत के चलते उसने  सफर के दौरान काफी सामान चोरी किया है। पति की आदत का पता जब उसकी पत्नि को चला तब उसे आत्मग्लानी हुई और उसने पति से बात करते हुए इसका विरोध किया लेकिन पति ने उसे चुप रहने की हिदायत दी। इसके बाद आत्मग्लानी के कारण पत्नि ने उसकी चोरी की शिकायत पुलिस से करने के साथ ही पति द्वारा चोरी किए गए सामान का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए। जानकारी के अनुसार राजस्थान के कोटा की रहने युवती की शादी इसी साल 12 जनवरी को उत्तर प्रदेश के कानपुर निवासी अरशद नामक युवक से हुई थी। अरशद भोपाल में ही एक निजी कंपनी में इंजीनियर है, और पत्नी के साथ भोपाल के एयरपोर्ट रोड स्थित दाता कॉलोनी में किराए के मकान में रहता है। पत्नि अफसाना का कहना है कि काम के चलते पति अरशद आये दिन शहर से बाहर जाता रहता है, और ट्रेन में सफर के दौरान उसे रेलवे की चादर, तकिया और तौलिए चुराने की आदत लग गई। पति अरशद ने 40 तौलिया, 30 चादर और 6 कंबल चुरा लिए। पत्नि ने चोरी के सामान का वीडियो बनाते हुए सोशल मीडिया पर वायरल किया है। इसमें महिला बता रही कि उसके कमरे में एक संदूक रखा था। इस पर हमेशा ताला लगा रहता है। त्यौहार के चलते जब उसने सफाई के दौरान संदूक खोला तो उसमें रेलवे की बहुत सारी चादरें, कंबल और तौलिए रखे मिले। जब उसने पति अरशद से इस बारे में बातचीत कर उसके चोरी करने का विरोध करते हुए सारी चीजें वापस करने को कहा। तब पति ने मुससे कहा कि पुरुष प्रधान देश है। तुम्हें इस मामले में बोलने की जरूरत नहीं है। महिला का कहना है कि उसे अपने पति की यह बात अच्छी नहीं लगी और खुद भी आत्मग्लानी होने पर मंगलवार को उसने रेलवे को कॉल कर पति की चोरी की शिकायत करते हुए सारा सामान वापस लेने की बात कही। शिकायत के बाद रेलवे के अधिकारी और कर्मचारी उसके घर आकर सारा सामान लेकर चले गए। महिला का आरोप है की शिकायत करने पर उसके पति ने उसके साथ मारपीट की थी, जिसके बाद उसके परिजन उसे कोटा लेकर आ गए। बताया गया है कि अभी तक पुलिस ने सामान चुराने वाले इंजीनियर के खिलाफ फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की है।