पाकिस्तान डिफॉल्ट करता है तो कोई विदेशी निवेश नहीं होगा : इमरान खान

0
17


लाहौर| पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को एक प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने गठबंधन सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि अगर देश डिफॉल्ट करता है तो इससे ‘चोरों के गिरोह’ के हितों को कोई नुकसान नहीं होगा। जियो न्यूज के मुताबिक, इमरान खान ने कहा है कि ‘चोरों के गिरोह’ के पास विदेशों में अरबों डॉलर की संपत्ति है, इसलिए उन्हें देश के आर्थिक पतन की परवाह नहीं है।

रिपोर्ट के मुताबिक, इमरान ने कहा कि अमेरिकी डॉलर में और तेजी आएगी, यदि पाकिस्तान डिफॉल्ट करता है तो यहां कोई विदेशी निवेश नहीं होगा। उन्होंने कहा कि “हम पर चोरों का एक ग्रुप थोपा गया है, यह गिरोह पिछले 30 साल से राष्ट्रीय संपत्ति की चोरी कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि वे लोग हुंडी और हवाला सहित अवैध तरीकों से विदेशों में लूटे गए धन को सफेद कर रहे थे।”

एक दिन पहले वित्तमंत्री इशाक डार ने दोहराया था कि अर्थव्यवस्था सही दिशा में जा रही है और यह डिफॉल्ट नहीं होगी। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था के साथ कोई और प्रयोग नहीं किया जा सकता, क्योंकि पिछली सरकार के कार्यकाल के दौरान पाकिस्तान अपने सबसे बुरे आर्थिक दौर से गुजरा था।

इमरान खान ने कहा कि जब हुदैबिया पेपर मिल्स मामला सामने आया तो लोगों को मालूम हुआ कि शरीफ परिवार कैसे लूटे गए धन को सफेद कर रहा है।

जियो न्यूज ने बताया कि शरीफ परिवार के फ्रंट मैन इशाक डार ने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत अपना बयान दर्ज किया और मनी लॉन्ड्रिंग का खुलासा किया।

 






Read this news in English visit IndiaFastestNews.in