पीएनबी और इंडियन बैंक ने एफडी पर बढ़ाया 0.95 फीसदी तक ब्याज…

0
11


पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) और इंडियन बैंक ने (फिक्स्ड डिपॉजिट) एफडी पर 0.95 फीसदी तक ब्याज बढ़ा दिया है। दोनों बैंकों की बढ़ी हुईं दरें 19 दिसंबर से लागू हो गई हैं। पीएनबी ने कहा, दो करोड़ रुपये से कम के 666 दिन के एफडी पर ब्याज दर 0.95% बढ़कर 6.30 से 7.25% हो गई है। तीन से 10 साल के जमा पर 0.40% अधिक यानी 6.50% ब्याज मिलेगा।वरिष्ठ नागरिकों को 4 से 7.75% तक ब्याज मिलेगा। उधर, इंडियन बैंक ने इंड शक्ति नाम से 555 दिन का एफडी लॉन्च किया है।

इस पर 6.25 फीसदी तक ब्याज मिलेगा। वरिष्ठ नागरिकों को 0.50% अतिरिक्त फायदा मिलेगा। इसमें 91 से 120 दिन के जमा पर 3.50 फीसदी ब्याज मिलेगा। तीन से पांच साल के जमा पर 6.25 फीसदी तक ब्याज दिया जाएगा। स्मॉल फाइनेंस बैंक फिनकेयर अब 8% तक ब्याज देगा। वरिष्ठ नागरिकों को 8.5 फीसदी ब्याज मिलेगा। दर 17 दिसंबर से लागू है।एक्सिस बैंक ने सभी अवधि की कर्ज की सीमांत लागत आधारित दर (एमसीएलआर) में 0.30 फीसदी की बढ़ोतरी की है। नई दर 17 दिसंबर से लागू है। एक साल के कर्ज पर 8.75 फीसदी ब्याज देना होगा।

उधर, आवास वित्त कंपनी एचडीएफसी ने खुदरा प्रधान कर्ज दर में 0.35% वृद्धि की घोषणा की है। इससे होम लोन की न्यूनतम दर बढ़कर 8.65 फीसदी हो गई है। नई दरें मंगलवार से लागू होंगी।रेटिंग एजेंसी इक्रा ने कहा कि 2023-24 के अंत तक बैंकों का बुरा फंसा कर्ज (एनपीए) चार फीसदी पर पहुंच जाएगा। यह 10 साल में सबसे सर्वश्रेष्ठ स्तर होगा। 2022-23 में बैंकों का कर्ज वृद्धि 15.2-16.1 फीसदी रहेगा, लेकिन 2023-24 में यह कम होकर 11-11.6% पर आ जाएगा। कर्ज वृद्धि में सबसे बड़ी हिस्सेदारी सरकारी बैंकों की होगी, जबकि निजी क्षेत्र के बैंकों की बाजार हिस्सेदारी कम रहेगी।






Read this news in English visit IndiaFastestNews.in