बसंत पंचमी के दिन छात्र जरूर करें ये सरल उपाय, बरसेगी मां सरस्वती की कृपा; सफलता चूमेगी कदम! Public Live

0
14

बसंत पंचमी के दिन छात्र जरूर करें ये सरल उपाय, बरसेगी मां सरस्वती की कृपा; सफलता चूमेगी कदम!

PublicLive.co.in

सरस्वती पूजा हर साल माघ महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है. इस साल बसंत पंचमी यानी सरस्वती पूजा 14 फरवरी को मनाई जाएगी. सरस्वती पूजा के दिन कई लोग अपने-अपने तरीके से माता सरस्वती की पूजा आराधना करते हैं. शास्त्रों के अनुसार बसंत पंचमी के दिन माता सरस्वती हाथों में पुस्तक वीणा और माला लिए श्वेत कमल फूल पर विराजमान होकर प्रकट हुई थीं.

सरस्वती पूजा के दिन माता सरस्वती की अगर विधि विधान के साथ पूजा आराधना की जाए तो छात्रों के जीवन में सफलता का योग बनता है. वहीं कई ऐसे उपाय हैं जो आप सरस्वती पूजा के दिन करते हैं तो छात्रों के जीवन में बुद्धि बढ़ती है और सफलता भी मिलती है. देवघर के ज्योतिषआचार्य जी से जानते हैं कि ये उपाय क्या हैं?

क्या कहते हैं देवघर के ज्योतिषआचार्य

देवघर के पागल बाबा आश्रम स्थित मुद्गल ज्योतिष केंद्र के प्रसिद्ध ज्योतिष आचार्य पंडित नंदकिशोर मुद्गल ने लोकल 18 के संवाददाता से बातचीत करते हुए कहा कि छात्रों के जीवन के लिए बसंत पंचमी का दिन यानी सरस्वती पूजा का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि माता सरस्वती विद्या की देवी मानी जाती हैं. छात्रों को शिक्षा से संबंधित जो भी परेशानियां होती हैं वह सरस्वती पूजा के दिन अगर माता सरस्वती की पूजा आराधना विशेष कर करते हैं तो सारी परेशानियां दूर हो जाती हैं. वहीं कई ऐसे उपाय हैं जिससे माता सरस्वती प्रसन्न होती हैं और छात्रों पर विशेष कृपा बरसती है.

सरस्वती पुजा के दिन छात्र करें ये उपाय

ज्योतिष आचार्य बताते हैं कि जिन छात्रों को सफलता नहीं मिल रही है या पढ़ाई में मन नहीं लग रहा है वैसे छात्र अगर सरस्वती पूजा के दिन पीला पुष्प यानी कनेल के पुष्प की माला, पीला वस्त्र और पीला चंदन माता सरस्वती को अर्पण करते हैं तो इससे माता सरस्वती बेहद प्रसन्न होती हैं.  माता सरस्वती का प्रिय रंग पीला है. इसके साथ ही जिस रूम में आप पढ़ाई करते हैं उस रूम में सरस्वती पूजा के दिन माता सरस्वती का एक चित्र जरूर लगाएं और स्नान कर पूजा आराधना करें. इसके बाद सरस्वती बीज मंत्र की पाठ 108 बार करें. इससे माता सरस्वती की विशेष कृपा आप पर बरसेगी.

क्या है शुभ मुहूर्त

सरस्वती पूजा के दिन रवि योग और अमृत योग का भी निर्माण होने जा रहा है. सरस्वती पूजा का शुभ मुहूर्त 14 फरवरी को 12 बजकर 30 मिनट से लेकर 1 बजकर 30 मिनट तक रहने वाला है.

.