बैंकरप्ट क्रिप्टो एक्सचेंज FTX के फाउंडर सैम बैंकमैन फ्राइड रिहा… 

0
13


क्रिप्टो एक्सचेंज एफटीएक्स के धराशायी होने के मामले में आरोपित सैम बैंकमैन-फ्राइड को अदालत ने 250 मिलियन डॉलर के बॉन्ड पर रिहा कर दिया है। वहीं दूसरी ओर अमेरिकी अभियोजक ने एफटीएक्स के बर्बाद होने के मामले में ट्रायल का सामना कर रहे बैंकमैन के अपराध को एपिक धोखाधड़ी बताया। मैनहट्टन में संघीय अभियोजकों ने FTX के संस्थापक पर अपने हेज फंड, अल्मेडा रिसर्च में घाटे को कम करने के लिए ग्राहकों के धन में अरबों डॉलर की चोरी करने का आरोप लगाया है।  

बैंकमैन-फ्राइड को गुरुवार को याचिका दर्ज करने के लिए नहीं कहा गया था। अदालत में बैंकमैन-फ्राइड ने  FTX में जोखिम-प्रबंधन विफलताओं को स्वीकार किया है, लेकिन उन्होंने कहा है कि उन्हें ऐसा नहीं लगता है कि उन्होंने कोई अपरध किया है। मैनहट्टन संघीय अदालत में सुनवाई के बाद उनके बचाव पक्ष के वकील मार्क कोहेन ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

अमेरिकी मजिस्ट्रेट न्यायाधीश गेब्रियल गोरेनस्टीन ने बैंकमैन-फ्राइड की अगली अदालत की तारीख 3 जनवरी, 2023 को अमेरिकी जिला न्यायाधीश रॉनी अब्राम्स के समक्ष निर्धारित की, जो इस मामले को संभालेंगे।

बैंकमैन-फ्राइड ने 2019 में एफटीएक्स की स्थापना की थी। बिटकॉइन और अन्य डिजिटल संपत्तियों के मूल्यों में उछाल के कारण एक्सचेंज की मार्केट वैल्यू इस वर्ष की शुरुआत में लगभग 32 बिलियन डॉलर हो गई थी, जिससे मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) से स्नातक फ्राइड की संपत्ति में कई गुना अधिक का इजाफा हुआ और वे अरबपति गए। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बैंकमैन फ्राइड ने कई अमेरिकी राजनीतिक अभियानों के लिए भी दान दिए थे। 

फ्राइड को प्री-ट्रायल रिहाई देते हुए जज गेब्रियल गोरेंस्टीन ने कहा कि बैंकमैन-फ्राइड की पर्याप्त बदनामी हुई है ऐसे में उसके लिए आगे वित्तीय योजनाओं में शामिल होना या बिना जानकारी दिए छिपना असंभव होगा।






Read this news in English visit IndiaFastestNews.in