बैडमिंटन खेलते-खेलते जज को आया हार्टअटैक, झांसी में डॉक्टरों ने किया मृत घोषित Public Live

0
14

बैडमिंटन खेलते-खेलते जज को आया हार्टअटैक, झांसी में डॉक्टरों ने किया मृत घोषित

PublicLive.co.in

टीकमगढ़ ।    मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले के जतारा न्यायालय में पदस्थ जज की हार्टअटैक से मौत हो गई। वे बैडमिंटन खेल रहे थे, तभी उन्हें सीने में दर्द की शिकायत हुई। झांसी लेकर पहुंचे तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।  जतारा न्यायालय के अधिवक्ता रोहित सिंह भदोरिया ने बताया कि जतारा न्यायालय में एडीजे के पद पर हरिश्चंद्र पटेल पिछले 2 साल से कार्यरत थे। गत दिवस जब कोर्ट से घर पहुंचे तो करीब शाम 6 बजे वे बैडमिंटन खेलने के लिए कोर्ट परिसर में पहुंचे। रात 9 बजे तक बैडमिंटन खेलते रहे। इसके बाद उन्हें सीने में दर्द की शिकायत हुई जिस पर उन्होंने अपने अन्य सहयोगियों को सूचना दी और प्रशासन को भी सूचित किया। जतारा एसडीओपी उनको लेकर डॉक्टर राहुल जैन के पास पहुंचे, प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें झांसी मेडिकल ले जाने की सलाह दी। एंबुलेंस द्वारा जब उन्हें झांसी ले जाया जा रहा था तो रास्ते में एक और अटैक आया। उन्हें यथार्थ हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।  

दमोह जिले के निवासी थे एडीजे, कोविड हो चुका था

भदोरिया ने बताया कि एडीजे हरिश्चंद्र पटेल मूलत: दमोह जिले के पथरिया क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव छक्का खिरिया के रहने वाले थे। जानकारी के मुताबिक पटेल को कोविड भी हो चुका था। इसमें उनका लंबा उपचार चला था। भदोरिया ने बताया कि यह जानकारी पैतृक गांव में उनके अंतिम संस्कार के समय उनके बड़े भाई ने उनको दी थी।