भारत के आर्थिक विकास के स्मारक बनाए हैं कांग्रेस ने : जयराम रमेश  Public Live

0
30

भारत के आर्थिक विकास के स्मारक बनाए हैं कांग्रेस ने : जयराम रमेश 

PublicLive.co.in

धनबाद| कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ आज रविवार धनबाद से शुरू हुई तो कांग्रेस सांसद जयराम रमेश ने कहा कि भारत के आर्थिक विकास के स्मारक कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु ने बनाए हैं। 

दरअसल धनबाद के टुंडी प्रखंड में रात्रि विश्राम के बाद भारत जोड़ो न्याय यात्रा रविवार को धनबाद शहर के गोविंदपुर से पुन: शुरू की गई थी। इस अवसर पर कांग्रेस सांसद जयराम रमेश ने कहा, कि आज, हमसे पूछा जाता है कि कांग्रेस ने 70 साल में क्या किया? आज हम धनबाद में हैं और हम बोकारो जाएंगे, जो कि बोकारो इस्पात शहर के नाम से भी मशहूर है। उन्होंने कहा कि ये कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू द्वारा बनाए स्मारक हैं। जब लोग पूछते हैं कि हमने 70 वर्षों में क्या किया, तो बताना चाहूंगा कि भिलाई, राउरकेला, दुर्गापुर, भाखड़ा नांगल, बोकारो, धनबाद, बरौनी, सिंदरी- आदि आदि ये सभी भारत के आर्थिक विकास के स्मारक हैं। 

इस अवसर पर कांग्रेस की झारखंड इकाई के उपाध्यक्ष ब्रजेंद्र प्रसाद सिंह ने न्याय यात्रा के संबंध में विस्तार से बताया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी रविवार को रामगढ़ जिले में रात्रि विश्राम करेंगे। उन्होंने बताया कि भारत जोड़ो न्याय यात्रा दो चरणों में आठ दिन में राज्य के 13 जिलों में 804 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। 67 दिनों में यह यात्रा 6,713 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। 15 राज्यों के 110 जिलों से होते हुए 20 मार्च को मुंबई में समाप्त होगी।

Previous article10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं कल से, तैयारी पूर्ण  Public Live
Next articleयुवती ने स्पाइसजेट फ्लाइट के अंदर लगाया छेड़छाड़ का आरोप Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।