भारत के साथ-साथ पड़ोसी देश भी होली के रंग में डूबे… Public Live

0
24

भारत के साथ-साथ पड़ोसी देश भी होली के रंग में डूबे…

PublicLive.co.in

देश से लेकर विदेशों तक रंगों का त्योहार ‘होली’ धूम-धाम से मनाया गया। इस त्योहार को भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका से लेकर हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में भी खूब हर्षोल्लास से मनाया गया।

इन दिनों जहां पाकिस्तान में रमजान का पावन महिना चल रहा है वहीं होली के त्योहार को इतने धूम-धाम और शांति-पूर्वक मनाना वहां पर रह रहे लोगों के भाईचारे को बताता है। पाकिस्तान के हैदराबाद, कराची और लाहौर जैसे बड़े शहरों में होली का उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। पाकिस्तान के कई शहरों में लोग एक-दूसरे को रंग लगाते दिखे। आप भी इन तस्वीरों के माध्यम से देखिए कि किस तरह पाकिस्तान में होली का त्योहार मनाया गया। 

पाकिस्तान ने इस तरह मनाया होली का त्योहार 

25 मार्च 2024 को भारत के साथ-साथ हमारा पड़ोसी देश भी रंगों में डूबा हुआ था। पाकिस्तान के हैदराबाद में होली समारोह के हिस्से के रूप में लोग मौज-मस्ती करते नजर आए। लोगों ने मिट्टी से बने मटकी तोड़ने के लिए मानव पिरामिड बनाने की कोशिश की। 

होली के दिन पाकिस्तान के कराची में भी हिंदू समुदाय के लोग रंगों का त्योहार होली मनाते हुए दिखे। गुलाल को हवा में उड़ाते दिखे लोग। आपको मालूम हो कि होली का त्योहार वसंत की शुरुआत और बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। 

पाकिस्तान के कराची में पाकिस्तानी हिंदू समुदाय के लोग रंगों का त्योहार होली मनाते दिखे। पाकिस्तान के कई शहरों में पाकिस्तानी हिंदू समुदाय के लोगों ने रंगों का त्योहार होली मनाया। सभी लोग रंगों के साथ होली का जश्न मनाते दिखे।

Previous articleलिफ्ट देने के बहाने पुराने परिचित ने महिला से किया दुष्कर्म, फिर दी मारने की धमकी Public Live
Next articleरेखा पात्रा को PM मोदी ने किया फोन…. Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।