मध्य प्रदेश के चर्चित हनीट्रैप की सुनवाई टली, 2 मार्च को एसआईटी करेगी कमलनाथ मामले में जवाब पेश Public Live

0
11

मध्य प्रदेश के चर्चित हनीट्रैप की सुनवाई टली, 2 मार्च को एसआईटी करेगी कमलनाथ मामले में जवाब पेश

PublicLive.co.in

इंदौर ।    मध्य प्रदेश के चर्चित सेक्स स्कैंडल हनी ट्रैप मामले की सुनवाई टल गई है। पहले शनिवार को इंदौर की स्पेशल कोर्ट में सुनवाई होना थी, लेकिन अब दो मार्च को सुनवाई होगी। इस मामले में गठित एसआईटी के चीफ हाल ही में आदर्श कटियार को बनाया गया हैै। उन्हें खुद 2 मार्च को होने वाली सुनवाई में कोर्ट के समक्ष पेश होकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को दिए गए नोटिस के बारे में जवाब देना होगा। पिछले माह हुई सुनवाई में सरकारी वकील ने कहा था कि कटियार की नियुक्ति अभी हुई है अौर ट्रेनिंग पर गए है। इस कारण वे कोर्ट में जबाव पेश करने नहीं आ सके। हनीट्रैप मामले में पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ को दिए गए नोटिस के मामले में बताया जाएगा कि नोटिस के बाद कमल नाथ ने सीडी सौंपी या नहीं। कमलनाथ ने मीडिया के सामने कहा था कि उनके पास हनीट्रैप की सीडी और पैन ड्राइव है।

इसके बाद आरोपियों के वकील ने आपत्ति ली थी और कहा था कि सीडी और पैनड्राइव एसआईटी के पास होना चाहिए। एसआईटी ने नाथ को नोटिस देकर सीडी को पूछताछ के लिए कार्यालय मेें उपस्थित होने के लिए कहा था, लेकिन वे नहीं आए। पिछली सुनवाई में सरकारी वकील ने कहा था कि नाथ इस मामले मेें मदद नहीं कर रहे है। न तो उन्होंने सीडी एसआईटी के पास जमा की और न ही वे कार्यालय मेें पेश हुए। आपको बता दे कि चार साल पहले इंदौर में हनीट्रैप मामले का खुलासा हुआ था। नगर निगम के तत्कालीन सिटी इंजीनियर हरभजन सिंह ने ब्लैकमैलिंग का आरोप चार युवतियों पर लगाया था। इसके बाद पुलिस ने इंदौर और भोपाल में छापे मारे थे और आरती दयाल, मोनिका यादव, श्वेता जैैन और श्वेता स्वप्निल जैन को गिरफ्तार किया था।