मानसिक तनाव के चलते सीआरपीएफ के जवान ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या Public Live

0
19

मानसिक तनाव के चलते सीआरपीएफ के जवान ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

PublicLive.co.in

सीआरपीएफ 150 बटालियन के जवान ने मानसिक तनाव के चलते अपने साथी की सर्विस बंदूक से खुद को गोली मार ली। घटना की जानकारी लगते ही अन्य जवान घायल को पास के अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मौत की खबर लगते ही मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया। 

जानकारी के मुताबिक, मृतक जवान दोरनापाल के 150 बटालियन में कई महीनों से केवल कैम्प में ही ड्यूटी कर रहा था, मंगलवार को अचानक जवान ने अपने साथी जवान के बंदूक को उठाकर अपने आप को गोली मार ली। गोली की आवाज सुनकर अन्य साथी जवान भी घटनास्थल में आ पहुंचे और जवान को जिला अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

कैम्प के अन्य जवानों ने बताया कि मृतक जवान कई दिनों से मानसिक तनाव में था, किसी से ज्यादा बात भी नही कर रहा था। यह पहला मामला नहीं है जब किसी जवान ने खुद को गोली मारी हो। इससे पहले भी कई जवानों ने इसी तरह आत्महत्या कर अपनी जिंदगी समाप्त कर ली। फिलहाल जवान के शव को जिला अस्पताल में रखा गया है, जहां पोस्टमार्टम के बाद शव को गृहग्राम भेजा जाएगा।

Previous articleसीट बंटवारे पर नही बनी बात, इं‎‎डिया गठबंधन ‎में मची उठापटक Public Live
Next articleबजट से पहले मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय कैबिनेट की बैठक आज Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।