रामलला के दर्शन करने जा रहे रमन भाई को स्पेशल ट्रेन में आया अटैक, समाजसेवियों ने मिलकर गुजरात भेजा शव Public Live

0
11

रामलला के दर्शन करने जा रहे रमन भाई को स्पेशल ट्रेन में आया अटैक, समाजसेवियों ने मिलकर गुजरात भेजा शव

PublicLive.co.in

खंडवा ।    रामलला के दर्शन करने जा रहे रमन भाई को स्पेशल ट्रेन में अटैक आने से उनकी मौत हो गई। जिला प्रशासन एवं समाजसेवियों ने मिलकर रमन भाई के शव को गुजरात भेजवाया। अयोध्या में भगवान श्री रामलला के विराजमान होने के बाद से ही पूरे देश भर से राम भक्त अयोध्या प्रभु के दर्शन करने पहुंच रहे हैं, जिसके चलते गुजरात के बड़ोदरा से भुसावल होते हुए अयोध्या जाने के लिए 1400 राम भक्तों के लिए रेलवे के द्वारा एक तीर्थ यात्री स्पेशल गाड़ी आस्था स्पेशल ट्रेन के नाम से चलाई जा रही है। इस ट्रेन में सफर कर रहे रमन भाई की तबीयत मध्यप्रदेश के खंडवा के समीप अचानक खराब हुई और उनका निधन हो गया, जिसकी जानकारी मिलते ही खंडवा जिला प्रशासन के अधिकारी और समाजसेवियों ने मिलकर उनके साथियों का सहयोग करते हुए स्टेशन पर उतरवाया और उनका पीएम करवाकर एम्बुलेंस की मदद से शव को उनके घर भिजवाने की व्यवस्था की। खंडवा रेलवे स्टेशन पर शनिवार सुबह जिला प्रशासन के अधिकारियों और स्थानीय समाजसेवियों ने मिलकर आस्था स्पेशल ट्रेन से एक शव को उतरवाया। दरअसल, गुजरात राज्य के बड़ोदरा नगर के सुंदरपुर के रहने वाले रमन भाई पिता बाबू भाई पाटनवाडिया इस ट्रेन में सफर करते हुए प्रभु श्रीराम के दर्शन करने अयोध्या जा रहे थे। इस दौरान खंडवा के समीप सुबह लगभग चार बजे ट्रेन में ही इन्हें अटैक आ गया, जिससे उनकी तबीयत खराब हुई और कुछ देर में ही उनका निधन हो गया। इधर, खंडवा रेलवे पुलिस के द्वारा मृतक रमन भाई के शव को नंद कुमार सिंह चौहान मेडिकल कॉलेज के पोस्टमॉर्टम गृह में लाया गया, जहां जीआरपी थाना के सहायक निरीक्षक अनिल पटेल के द्वारा पंचनामा बनाकर शव को पीएम के लिए सौंपा गया। जहां डॉक्टर आलोक भूषण के द्वारा उनका पीएम किया गया।

परिजनों संग गुजरात के लिए रवाना किया शव

समाजसेवी सुनील जैन ने बताया कि सुबह से ही सहयोगी के रूप में जिला अस्पताल में समाजसेवी मुबारीक पटेल, नंदन करौडी के साथ ही डॉक्टर जुगतावत, डॉक्टर कौशल, सहित एसडीएम अरविंद चौहान, तहसीलदार खंडवा, नगर पुलिस अधीक्षक अरविंद तोमर, सिटी कोतवाली थाना प्रभारी बलराम सिंह राठौड़ मौजूद रहे। जहां जिला प्रशासन के अधिकारियों की उपस्थिति में रमन भाई का पीएम हुआ। इस दौरान मृतक रमन भाई के साथ उनका पुत्र अनिल और उन्हीं के गांव के रहवासी किशोर भाई, गिरीश गोहिल, शशिकांत पाटनवाडिया, राजेश आहीरे, विजय पटेल भी खंडवा स्टेशन पर उतर चुके थे, जिसके बाद आस्था स्पेशल ट्रेन को आगे रवाना किया गया था तो वहीं पोस्टमॉर्टम के बाद एम्बुलेंस के माध्यम से मृतक रमन भाई के शव को उनके परिजनों के साथ गुजरात के लिए रवाना किया गया।