रायपुर में वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस ने साढ़े सात किलो चांदी की जब्‍त  Public Live

0
15

रायपुर में वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस ने साढ़े सात किलो चांदी की जब्‍त 

PublicLive.co.in

चुनाव के मद्देनजर सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए समस्त थाना क्षेत्रों में वाहनों सहित संदिग्ध व्यक्तियों की लगातार जांच की जा रही है। इसी क्रम में मंगलवार को रायपुर के मंदिर हसौद टोलनाका के पास वाहन चेकिंग के दौरान साढ़े सात किलो चांदी जब्‍त की गई। वह व्यक्ति चांदी के संबंध में वैध दस्तावेज पेश नहीं कर सका। जब्‍त चांदी की कीमत करीब दो लाख रुपए बताई जा रहा है। यह मामला मंदिर हसौद थाना इलाके का है।

कारोबारी से 40 लाख रुपये जब्त

इससे पहले बीते गुरुवार को कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत सदर बाजार अंबा देवी मंदिर के सामने गली में एक व्यक्ति पुलिस टीम को देखकर हड़बड़ाया और भागने का प्रयास करने लगा। टीम ने उसे रोका और हाथ में रखे बैग को चेक किया तो 40 लाख रुपये मिले। वह व्यक्ति रकम के संबंध में वैध दस्तावेज पेश नहीं कर सका। टीम ने रुपये जब्त कर अग्रिम कार्रवाई के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा गठित कमेटी को भेज दिया।

जांच के दौरान छह लाख 78 हजार रुपये नकदी रकम जब्त की गई है। गुरुवार को थाना मंदिर हसौद क्षेत्रांतर्गत स्थित टोल नाका के पास थाना मंदिर हसौद पुलिस एवं एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट की संयुक्त टीम द्वारा वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। इसी दौरान एक कार की जांच करने पर उसमें नकदी रकम मिली।

टीम के सदस्यों द्वारा कार सवार व्यक्ति से इस संबंध में पूछताछ करने और वैध दस्तावेज की मांग करने पर उसके द्वारा किसी प्रकार का कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया गया। इस पर टीम द्वारा उसके कब्जे से नकदी रकम छह लाख 78 हजार 580 रुपये जब्त की गई। इसके बाद निर्वाचन आयोग द्वारा गठित कमेटी में भेज दिया।

Previous articleअदाणी ग्रीन एनर्जी गैलरी की लंदन में हुई शुरुआत Public Live
Next articleजीएम सरूरी ने उधमपुर सीट के लिए भरा नामांकन, गुलाम नबी आजाद की पार्टी के हैं उम्मीदवार Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।