रेलवे ने दी बड़ी जानकारी, छत्‍तीसगढ़ से अयोध्‍या के लिए इस दिन से चलेगी आस्‍था स्‍पेशल ट्रेन Public Live

0
21

रेलवे ने दी बड़ी जानकारी, छत्‍तीसगढ़ से अयोध्‍या के लिए इस दिन से चलेगी आस्‍था स्‍पेशल ट्रेन

PublicLive.co.in

श्रीरामलला के दर्शन करने अयोध्या के लिए रायपुर रेलवे स्टेशन से 14 फरवरी को स्पेशल ट्रेन नंबर 08203 दोपहर एक बजे रवाना होगी। इसकी तैयारी में रेलवे प्रशासन जुटा हुआ है। मंडल के अधिकारियों ने बताया कि यह ट्रेन दोपहर 3.25 बजे उसलापुर, 4.48 बजे पेंड्रारोड, 8.59 बजे सुल्तानपुर रेलवे स्टेशन और 10.35 बजे अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। वापसी में 16 फरवरी को अयोध्या से रायपुर के लिए रवाना होगी।

वहीं, बिलासपुर से ट्रेन 08207 नंबर के साथ दोपहर 3.05 बजे बिलासपुर रेलवे स्टेशन से रवाना होगी। इसके बाद 3.25 बजे उसलापुर, 4:48 बजे पेंड्रा रोड, 5.35 बजे अनूपपुर रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। यह भी उस रेलमार्ग से चलेगी, जहां से दूसरी आस्था स्पेशल ट्रेन चल रही है। यह ट्रेन 10.35 बजे अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। 20 फरवरी को यह ट्रेन अयोध्या धाम से वापस बिलासपुर के लिए रवाना होगी।

श्री रामलला के दर्शन के लिए छत्‍तीसगढ़ से चलेंगी पांच स्पेशल ट्रेनें

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के बिलासपुर जोन से अयोध्या में श्री रामलला के दर्शन के लिए पांच स्पेशल ट्रेनें चलेंगी। गोंदिया स्टेशन से 31 जनवरी को यह ट्रेन रवाना होकर दुर्ग, रायपुर और अनूपपुर के रास्ते चलेगी, जबकि दुर्ग स्टेशन से विश्व हिंदू परिषद की ओर से ट्रेन चार फरवरी को चलेगी। इन ट्रेनों के टिकट से लेकर कैटरिंग की व्यवस्था आइआरसीटीसी को दी गई है। टिकट की बुकिंग दोनों तरफ के लिए एक साथ होगी।

गोंदिया से 31 जनवरी और 25 फरवरी को

ट्रेन गोंदिया से सुबह 10.05 बजे छूटकर 11.01 बजे डोंगरगढ़, 11.25 बजे राजनांदगांव, 12.10 बजे दुर्ग, एक बजे रायपुर और भाटापारा स्टेशन में रुकते हुए 3.25 बजे उसलापुर रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। इसका स्टापेज पेंड्रा रोड, अनूपपुर, शहडोल, उमरिया, कटनी और प्रयागराज जैसे प्रमुख स्टेशनों में दिया गया है। अयोध्या धाम पहुंचने का समय 10.25 बजे निर्धारित किया गया है। वापसी में यह ट्रेन दो फरवरी और 27 फरवरी को अयोध्या धाम से छूटेगी।

दुर्ग से चार फरवरी को रवाना होगी

रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि चार फरवरी को दुर्ग से स्पेशल ट्रेन 08203 नंबर के साथ 11.10 बजे रवाना होगी। यह ट्रेन 11.45 रायपुर, 12.38 बजे भाटापारा और 1.50 बजे उसलापुर रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। 3.25 बजे पेंड्रा रोड और कटनी, सतना, प्रयागराज और सुल्तानपुर रेल स्टेशन में ठहरते हुए पांच बजे अयोध्या धाम पहुंचेगी। वापसी में छह फरवरी को अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से रवाना होगी।

आयोध्या जाने का उत्साह, यात्री बसों में भी भीड़ बढ़ी

श्रीराम की नगरी अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा समारोह होने के बाद से रामलला का दर्शन करने श्रद्वालुओं में भारी उत्साह देखा जा रहा है। उत्तर प्रदेश जाने वाली अधिकांश ट्रेने फरवरी तक पूरी तरह से पैक हो चुकी है। आलम यह है कि उत्तर भारत जाने वाली नवतनवा एक्सप्रेस में वेटिंग 100 के पार हो चुकी है।

यही स्थिति यात्री बसों की भी है। रायपुर से सीधे अयोध्या के लिए कोई एक भी लक्जरी बस फिलहाल नहीं चल रही है लेकिन बस संचालकों ने जरूरत पड़ने पर सीधे अयोध्या तक बस चलाने की तैयारी कर रखी है। वर्तमान में बनारस, प्रयागराज आदि शहरों के लिए रोज बस चल रही है। ट्रेनों में कंफर्म टिकट नहीं मिलने के कारण बड़ी संख्या में श्रद्वालु बसों में अपनी सीट बुक कराने में लगे हैं।

Previous articleमुख्यमंत्री विष्णुदेव साय आज करेंगे भाजपा के कार्यालय का उद्घाटन Public Live
Next articleजंगली जानवर को फंसाने के लिए लगाया गया करंट, चपेट में आने से भैंस की मौत Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।