शोएब बशीर ने टेस्ट डेब्यू विकेट मिलने के अनुभव का किया खुलासा, कहा….. Public Live

0
16

शोएब बशीर ने टेस्ट डेब्यू विकेट मिलने के अनुभव का किया खुलासा, कहा…..

PublicLive.co.in

इंग्लैंड के लिए टेस्ट डेब्यू करने वाले 20 वर्षीय शोएब बशीर ने कहा कि दौरे के लिए वीजा मिलने में हुई देरी से हुई परेशानी अब बीती बात हो चुकी है। वह अपने पहले टेस्ट विकेट के रूप में रोहित शर्मा को आउट कर काफी खुश हैं। बशीर ने पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा कि यह मेरे लिए बहुत विशेष दिन रहा।

बशीर ने आगे कहा, पिछले दो तीन वर्षों में मैं जितनी चीजों से गुजरा हूं, उसने इसे और खास बना दिया। रोहित शर्मा के रूप में पहला विकेट लेना शानदार लग रहा है। वह बेहतरीन खिलाड़ी है, वह दुनिया में सर्वश्रेष्ठ में से एक है और स्पिन खेलने वाला बेहतरीन खिलाड़ी है।

वीजा वाली बात हुई पुरानी

वीजा मामले पर उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं, मुझे पता था कि मुझे वीजा मिल जायेगा। इसमें थोड़ी परेशानी हुई, लेकिन हम यहां खेल रहे हैं और मैंने अपना डेब्यू कर लिया है। बस यही मायने रखता है।

पाटीदार बोले, किसी तरह का दबाव नहीं था

वहीं, भारत के लिए डेब्यू करने वाले रजत पाटीदार ने कहा, ‘यह मेरे लिए सपना सच होने वाला पल था। देश के लिए खेलना हर खिलाड़ी का सपना होता है। क्रीज पर जाते हुए कोई दबाव नहीं था, क्योंकि मैं घरेलू क्रिकेट में काफी मैच खेल चुका हूं। मैं बीती रात अच्छी तरह सोया। यह मेरे लिए सामान्य दिन था।’

भारत ने पहले दिन बनाए 336 रन

बता दें कि दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन स्टंप्स तक भारत ने 6 विकेट खोकर 336 रन बना लिए हैं। भारत की तरफ से यशस्वी जायसवाल 179 रन बनाकर नाबाद लौटे। शुभमन गिल ने 34 रन का योगदान दिया। वहीं, रजत पाटीदार ने 32 रन बनाए। रेहान अहमद और बशीर को दो-दो विकेट मिले।

Previous articleसमर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए पांच फरवरी से पंजीयन शुरू Public Live
Next articleएमआई एमिरेट्स ने शारजाह को 8 विकेट से हराया Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।