श्ईवी उपयोग पोर्टलश् को कई खूबियों से लैस करने पर योगी सरकार का फोकस Public Live

0
16

श्ईवी उपयोग पोर्टलश् को कई खूबियों से लैस करने पर योगी सरकार का फोकस

PublicLive.co.in

लखनऊ । उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने के विजन से कार्य कर रही योगी सरकार प्रदेश को प्रगति की नई गति प्रदान कर रही है। इस क्रम में, उत्तर प्रदेश में स्वच्छ ऊर्चा को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (ईवी) के प्रयोग व विनिर्माण को प्रश्रय दे रही योगी सरकार ने अब ईवी उपयोग पोर्टल को कई खूबियों से लैस करने पर फोकस कर रही है। सीएम योगी की मंशा के अनुसार, ईवी उपयोग पोर्टल को क्लाउड सर्वर पर होस्ट करने और इनवेस्ट यूपी की ऑफिशियल वेबसाइट से इंटीग्रेट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उत्तर प्रदेश डेवलपमेंट सिस्टम्स कॉरपोरेशन लिमिटेड ने इस प्रक्रिया को प्रारंभ करते हुए एक वर्ष के लिए सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट एजेंसी को कार्यभार सौंपे जाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। उल्लेखनीय है कि क्लाउड सर्वर एक पूल बेस्ड सेंट्रलाइज्ड सर्वर प्रोवाइडर है जिसे एक नेटवर्क (आमतौर पर इंटरनेट) पर होस्ट और वितरित किया जाता है। इसकी कई विशेषताओं में से एक खास विशेषता यह भी है कि इस प्रक्रिया को लागू करने के बाद इस सर्वर नेटवर्क को कई उपयोगकर्ताओं द्वारा मांग के अनुसार एक्सेस किया जा सकेगा।

क्लाउड सर्वर दुनिया में कहीं भी स्थित हो सकते हैं और क्लाउड कंप्यूटिंग के जरिए रिमोट एक्सेस से उपयोग में लाया जा सकता है। वहीं, इसके विपरीत, पारंपरिक डेडिकेटेड सर्वर हार्डवेयर आम तौर पर एक संगठन द्वारा विशेष उपयोग के लिए परिसर में स्थापित किया जाता है। हालांकि, कुछ मामलों में, क्लाउड सर्वर को क्लाउड प्रदाता द्वारा समर्पित सर्वर के रूप में भी कॉन्फिगर किया जा सकता है। यह क्लाउड स्टोरेज, डेटाबेस, नेटवर्किंग व डेडिकेटेड सॉफ्टवेयर समेत तमाम खूबियों से लैस होगा। कॉस्ट एफेक्टिवनेस, स्केलेबिलिटी, इंटीग्रेशन, एपीआई कन्वीनिएंस और रिलाइबेलिटी समेत साइबर सिक्योरिटी के प्वॉइंट ऑफ व्यू से क्लाउड सर्वर बेहतर साबित होता है। यही कारण है कि ईवी उपयोग पोर्टल को भी इस सुविधा से लैस करने के लिए सीएम योगी के विजन अनुसार यूपीडेस्को ने प्रक्रिया शुरू कर दी है।

इनवेस्ट यूपी की वेबसाइट के साथ इंटीग्रेट होने के साथ ही यूपीडेस्को द्वारा ईवी उपयोग पोर्टल को क्लाउड सर्वर पर होस्ट करने की विस्तृत कार्ययोजना तैयार की गई है। इसके अनुसार, एक वर्ष के लिए सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट एजेंसी को ऐसा करने के लिए कार्यभार सौंपा जाएगा। इस क्लाउड सर्वर व इंटीग्रेशन प्रक्रिया को मेइटी इंपैनेल्ड सर्विस प्रोवाइडर द्वारा अंजाम दिया जाएगा। यह क्लाउड 4 कोर, 32 जीबी रैम युक्त, 50 जीबी एसएसडी, विंडो सर्वर 2019, 1 स्टैटिक आईपी व एक टीबी बैंडविड्थ तथा टेक्निकल सपोर्ट युक्त 12 यूनिट्स के जरिए किया जाएगा। कार्य प्राप्त करने वाली सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट एजेंसी इस इंफ्रास्ट्रक्चर को विकसित व संचालित करने के साथ ही एक वर्ष की अवधि में मेंटिनेंस समेत तमाम तकनीकी प्रक्रियाओं को भी पूर्ण करेगी।

Previous articleन्‍यूजीलैंड ने रन के मामले में अपनी दूसरी सबसे बड़ी टेस्‍ट जीत की हासिल Public Live
Next articleइंदौर में तीसरी मंजिल से गिरे बच्चे ने दम तोड़ा, मां को नहीं दी गई जानकारी Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।